1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

मशहूर शेर के शिकार पर आक्रोश

अपने काले बालों के लिए मशहूर शेर सेसिल ने पर्यटकों की मदद से लाखों की आमदनी कराई है. लेकिन अब उसकी हत्या कर दी गई है. एक अमेरिकी शिकारी ने उसे विवादास्पद साधनों से जिम्बाब्वे के नेशनल पार्क से बाहर आने को लुभाया.

default

सेसिल

अमेरिकी शिकारी द्वारा तेरह साल के शेर सेसिल की हत्या की सोशल मीडिया में भारी आलोचना हो रही है. पर्यावरण संरक्षण संगठन जिम्बाब्वे कंजर्वेशन टास्क फोर्स के प्रमुख जॉनी रोड्रिगेस का कहना है कि जुलाई के शुरू में अमेरिकी प्रांत मिनिसोटा में रहने वाले दांतों के डॉक्टर वॉल्टर जेम्स पाल्मर और एक अन्य शिकारी ने एक मृत पशु को एक गाड़ी से बांधा था और इस तरह चारा डालकर उसने सेसिल को नेशनल पार्क से बाहर निकलने के लिए लुभाया. पार्क के बाहर शेर का शिकार गैरकानूनी नहीं है.

पाल्मर ने शेर के बाहर आने के बाद उस पर तीर से निशाना लगाया, लेकिन उसे मारने में कामयाबी नहीं मिली. करीब 40 घंटे बाद शिकारियों को सेसिल मिला और उन्होंने उस पर गोलियां चलाईं. बाद में उन्होंने उसका सिर काट दिया और उसकी खाल निकाली. साथ ही ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के रिसर्चरों द्वारा लगाए गए जीपीएस युक्त गले के फीते को भी नष्ट करने की कोशिश की.

Symbolbild - Löwe in Afrika

अफ्रीका के जंगलों में शेर

ह्वांग नेशनल पार्क जिम्बाब्वे के पश्चिम में स्थित है और वहां रहने वाला सेसिल अपने काले बालों के कारण जाना जाता था और उसे अक्सर देखा भी जाता था. अब अवैध शिकार के कारण स्थानीय शिकारी और उस जमीन के मालिक पर मुकदमा चलाया जा रहा है जिसकी जमीन पर शेर का अवैध शिकार हुआ. अधिकारी पाल्मर की भी तलाश कर रहे हैं जिसने रिपोर्टों के मुताबिक अवैध शिकार के लिए करीब 45,000 डॉलर की रकम दी. अफ्रीका के कई देशों में अनुमति लेकर शेर का शिकार किया जा सकता है.

पाल्मर ने सेसिल का शिकार करने की बात मानी है और उसके लिए माफी मांगी है. उसने लिखा है, "मुझे पता नहीं था कि शेर एक मशहूर स्थानीय हीरो था, गले में पट्टा था और शिकार के अंत तक एक अध्ययन का हिस्सा था. मेरी जानकारी के अनुसार इस दौरे पर सब कुछ कानूनी था और उस पर नियम के अनुसार अमल किया गया." उसने एक पेशेवर शिकारी को जिम्मा दिया था, सभी जरूरी लाइसेंस जुटाए थे. जिम्बाब्वे या अमेरिका के अधिकारियों ने अब तक उससे संपर्क नहीं किया है.

इस मामले पर इंटरनेट पर हो रहे हंगामे के बाद पाल्मर की प्रैक्टिस की वेबसाइट को ऑफलाइन कर दिया गया है. ट्विटर और येल्प पर उसकी हत्यारा कहकर आलोचना हो रही है. एक यूजर ने लिखा है, "शाही जीव की हत्या के लिए शर्म करो." पाल्मर बिना बंदूक के शिकार करने के अपने हुनर के कारण विख्यात है. 2009 में उसने एक बारहसिंघे को 60 मीटर की दूरी से एक धनुष की मदद से मार डाला था. सेसिल की मौत के बाद 1,30,000 लोगों ने राष्ट्रपति रॉबर्ट मुगाबे को एक ज्ञापन दिया है और विलुप्त होने के खतरे में पड़े जानवरों का शिकार रोकने की अपील की है.

जिम्बाब्वे कंजर्वेशन टास्क फोर्स के प्रमुख जॉनी रोड्रिगेस ने लिखा है, "सेसिल की मौत का बुरा पहलू यह भी है कि दर्जे में अगला शेर जेरिको अब सेसिल के बच्चों को मार डालेगा ताकि शेरनियों में अपने खून की पंरपरा को आगे बढ़ा सके. बब्बर शेरों में यही नियम है."

एमजे/ओएसजे (डीपीए)

DW.COM

संबंधित सामग्री