1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

मध्य प्रदेश पुलिस ने राहुल गांधी को रोका

मंदसौर जिले में पुलिस फायरिंग में पांच किसानों की मौत के बाद स्थानीय लोगों और किसानों का गुस्सा उबाल पर है. राज्य सरकार की मनाही के बाद भी कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी सुरक्षाकर्मियों को चकमा देकर बाइक से निकल गये थे.

मध्य प्रदेश के मंदसौर जिले में स्थानीय लोगों और किसानों के विरोध के बीच कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने सुरक्षाकर्मियों को चकमा देकर बाइक से निकलने की कोशिश की. लेकिन राज्य पुलिस ने उन्हें रोक लिया. इससे पहले भी उन्हें रोकने के लिए राजस्थान-मध्य प्रदेश बॉर्डर पर 400 से ज्यादा सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया था. ऐसी खबरें आ रही हैं कि राहुल गांधी अब मध्य प्रदेश में दाखिल हो गये हैं, लेकिन राज्य पुलिस ने उन्हें एहतियातन हिरासत में ले लिया है.

बीते मंगलवार पांच किसानों की मौत पुलिस फायरिंग में हो गई थी जिसके बाद राज्य में हिंसा भड़की हुई है. गुरुवार को राज्य के गृहमंत्री भूपेन्द्र सिंह ने स्वीकार किया था कि मंगलवार को मंदसौर जिले में किसानों के प्रदर्शन के दौरान पांच किसानों की मौत पुलिस फायरिंग से हुई थी.

हालांकि पिछले दो दिनों से राज्य सरकार पुलिस फायरिंग से इनकार कर रही थी. बिगड़ते हालातों के मद्देनजर मंदसौर के डीएम और एसपी का तबादला कर दिया गया है. स्थानीय मीडिया के मुताबिक अब राज्य की शिवराज सिंह सरकार नरम रुख अपना सकती है और जल्द ही कर्ज माफी का ऐलान भी जल्द ही संभव है.

इस पूरी घटना के चलते बुधवार को राज्य में कई जगहों से हिंसा की खबरें आती रहीं. भोपाल-इंदौर हाइवे और रेल की पटरियों पर किसानों और स्थानीय लोगों का गुस्सा जमकर फूटा. कई इलाकों में गाड़ियों को जला दिया गया, कई गाड़ियों पर पथराव किया गया. राज्य के बिगड़ते हालात को देखते हुये प्रधानमंत्री ने भी वरिष्ठ मंत्रियों के साथ बैठक कर हालात का जायजा लिया है. वहीं राज्य सरकार ने उपद्रवियों से निपटने के लिये केंद्रीय सुरक्षा बलों की अतिरिक्त टुकड़ियों की मांग की है.

DW.COM

संबंधित सामग्री