मध्य प्रदेश की रात में चमकने वाली गायें | दुनिया | DW | 26.08.2016
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

मध्य प्रदेश की रात में चमकने वाली गायें

मध्य प्रदेश में इन दिनों रात में चमकने वाली गायें दिख रही हैं. सड़क हादसों को रोकने के लिए ऐसा कदम उठाया गया है.

मध्य प्रदेश पुलिस आवारा घूमती गायों की सींगों पर रात में चमकने वाले रेडियम स्टिकर लगा रही है. पुलिस के मुताबिक अंधेरे में सड़क पर घूमती गायें मोटरसवारों को नहीं दिखाई पड़तीं, जिसके चलते कई हादसे होते हैं.

प्रदेश के बालाघाट जिले में तो पुलिस ने गाय और बैलों की सींग पर नारंगी रंग के रेडियम स्टीकर लगा भी दिये हैं. पुलिस के मुताबिक अब तक 300 गाय और बैलों पर ऐसे स्टीकर लगाये जा चुके हैं.

(भारत में हर मिनट एक इंसान सड़क हादसे में अपनी जान गंवाता है, चार घायल होते हैं. जरा सी सावधानी से अपनी और दूसरों की जान बचाई जा सकती है, आईये जानें सड़क सुरक्षा की 14 अहम बातें.)

समाचार एजेंसी एएफपी से बात करते हुए बालाघाट के ट्रैफिक पुलिस इंस्पेक्टर कैलाश चौहान ने कहा, "रात के अंधेरे में पशुओं से टकराने के बाद कई ड्राइवर घायल हुए, पशुओं की भी मौत हुई. लिहाजा ऐसे हादसों को फौरी तौर पर रोकने की जरूरत पड़ी."

स्टीकर ट्रिक इतनी हिट हुई कि अब पुलिस परमानेंट रेडियम पेंट खरीदने की सोच रही है. पुलिस के मुताबिक सींगों पर लगाया जाने वाला परमानेंट पेंट बहुत लंबे वक्त तक चलेगा. स्टीकर या प्लास्टिक बैंड कुछ ही हफ्ते चल पाते हैं.

प्रशासन ने किसानों से भी अपने मवेशियों पर भी चमकने वाले स्टीकर या बैंड लगाने को कहा है. ऐसा करने से अंधेरे में मवेशियों को खोजने में आसानी होगी और सड़क हादसे भी टाले जा सकेंगे.

विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट के मुताबिक भारत में हर साल सड़क हादसों में 2,31,000 से ज्यादा लोग मारे जाते हैं. 2015 में आवारा पशुओं से टकराने के बाद हुए एक्सीडेंट्स में 550 से ज्यादा लोग मारे गए.

ओएसजे/एमजे (एएफपी)

DW.COM

संबंधित सामग्री