1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

मदर टेरेसा का जीवन दिखाती मदर एक्सप्रेस

भारतीय रेल ने मदर टेरेसा का पूरा जीवन दिखाती एक रेल प्रदर्शनी शुरू की है. शनिवार को तिरुअनंतपुरम से इस ट्रेन ने अपने सफर की शुरूआत की. तीन कोच वाली इस ट्रेन में मदर टेरेसा की तस्वीरें और उनके काम को दिखाया गया है.

default

सफेद रंग की ट्रेन पर आसमानी रंग की वही पट्टी है जो मदर की साड़ी पर होती थी. मदर एक्सप्रेस में मदद की दुर्लभ तस्वीरें हैं और उनसे जुड़ी दूसरी चीजें हैं. इन सबको जमा किया है मिशनरीज ऑफ चैरिटी ने. दीन दुखियों की सेवा करने वाली वो संस्था जिसे मदर ने शुरु किया. ट्रेन का हर कोना मदर के व्यक्तित्व की कोई न कोई झलक दिखा जाता है साथ ही दुनिया के लिए मदर का संदेश भी. ट्रेन में मदर के प्रमुख भाषणों के अहम हिस्सों को भी जगह दी गई है.

इस साल मदर टेरेसा की जन्म का शताब्दी वर्ष है और इसी मौके पर भारतीय रेल ने इस ट्रेन की शुरुआत की है. तिरुअनंतपुरम में स्टेशन पर दो दिन रहने के बाद ट्रेन आगे के सफर पर निकल जाएगी. तिरुअनंतपुरम पर ट्रेन का स्वागत करने के लिए रेलवे के कई बड़े अधिकारी मौजूद थे.

Mutter Theresa

अगले छह महीनों तक पूरे देश में सफर करके ट्रेन मानवता और मदर के उपदेशों को लोगों तक पहुंचाएगी. दक्षिण रेलवे की महिला कल्याण संगठन की अध्यक्ष नीलम शर्मा भी ट्रेन की अगवानी करने स्टेशन पर मौजूद थीं. इस मौके पर नीलम ने कहा," ये प्रदर्शनी लोगों को दुनिया भर के गरीब और कमजोर तबके की सेवा के लिए मदर के योगदान के बारे में बताएगी."

उधर वैटिकन में भी मदर टेरेसा की जन्म शताब्दी के उपलक्ष्य में गरीब लोगों के लिए एक भोज का आयोजन किया गया. इस विशेष भोज में 250 गरीब बच्चों को क्रिसमस डिनर पर बुलाया गया.

रिपोर्टः एजेंसियां/एन रंजन

संपादनः आभा एम

DW.COM

WWW-Links