1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

मक्का मस्जिद धमाके के आरोपियों पर 10 लाख का इनाम

सीबीआई ने 2007 में हैदराबाद की मक्का मस्जिद में हुए धमाके में शामिल दो आरोपियों के बारे में सूचना और जानकारी देने वाले को 10 लाख रुपये का इनाम देने का एलान किया. शक हिंदू चरपंथियों पर.

default

मक्का मस्जिद में हुए बम धमाकों के सिलसिले में पुलिस इंदौर के संदीप डांगे और रामचंद्र कालसांगरा की तलाश कर रही है. सीबीआई के प्रवक्ता हर्ष भाल ने कहा, सीबीआई ने घोषणा की है कि वह उस व्यक्ति को नकद 10 दस लाख रुपये का इनाम देगी, जो इन दो भागे हुए आरोपियों के बारे में ऐसी सूचना देगा कि इन्हें दिरफ्तार किया जा सके. डांगे उर्फ प्रेमानंद औऱ कालसांग्रा उर्फ रामजी उर्फ विष्णु पटेल की पुलिस तलाश कर रही है.

9 जून 2007 को सीबीआई ने केस रजिस्टर करके देंवेन्द्र गुप्ता और लोकेश शर्मा को हिरासत में लिया. ये दोनों अजमेर दरगाह में हुए धमाकों में भी शामिल हैं. भाल ने बताया, दोनों आरोपियों को आतंकवाद निरोधी दस्ते ने राजस्थान में गिरफ्तार किया था. भाल ने जानकारी दी कि इन दोनों से पूछताछ के दौरान डांगे और कालसांग्रा के नाम सामने आए. गुप्ता 30 जून तक सीबीआई की हिरासत में है जबकि शर्मा को न्यायिक हिरासत में रखा गया है..

हैदराबाद की मक्का मस्जिद में 18 मई 2007 को धमाका हुआ था, जिसमें नौ लोग मारे गए थे. ब्लास्ट के बाद शहर में हिंसा भी हुई. पांच प्रदर्शनकारियों की पुलिस फायरिंग में मौत हो गई.

रिपोर्टः पीटीआई/आभा एम

संपादनः ओ सिंह

संबंधित सामग्री