1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

मंथन 100 में खास

मंथन के विशेष एपिसोड में देखें जर्मनी में भारतीय रिसर्चरों से मुलाकात और ग्लोबल फेस्टिवल बनी होली के जर्मनी में छाए रंग.

स्विट्जरलैंड की लेक जेनेवा और यूरा पहाड़ियों के बीच एक मशीन है, जिसमें दिव्य कण यानि गॉड पार्टिकल की खोज हुई. इस मशीन को पार्टिकल एक्सेलेरेट करते हैं. इसी की मदद से 2008 में दुनिया की सबसे बड़ी लैब सर्न में आज तक का सबसे अहम प्रयोग शुरू हुआ. मकसद था डार्क मैटर को समझना ताकि पता चल सके कि हमारे ब्रह्मांड की रचना कैसे हुई. मंथन की पहली रिपोर्ट में माक्स प्लांक इंस्टीट्यूट फॉर एस्ट्रोनॉमी में भारतीय वैज्ञानिक गिरीश कुलकर्णी और सर्न के वैज्ञानिक ब्रह्मांड और डार्क मैटर से जुड़े इस रहस्यों को समझाएंगे.

डार्क मैटर को समझने के लिए दुनिया भर में जो वैज्ञानिक लगे हुए हैं, उनमें कई भारतीय भी हैं. स्वस्ति बेलवाल बॉन यूनिवर्सिटी में इस पर रिसर्च कर रही हैं. उन्हें सर्न की प्रयोगशाला से डाटा मिलता है जिसे वह अपने कंप्यूटर पर पढ़ने और समझने की कोशिश करती हैं. स्वस्ति समझाएंगी कि इस डाटा की मदद से वह किस तरह डार्क मैटर को खोजने का काम कर रही हैं. स्वस्ति से विस्तार से जानेंगे कि आखिर डार्क मैटर है क्या.

क्या है बुढ़ापा

हमेशा जवानी की चाह पर न जाने कितनी परीकथाएं बनी हैं. इसी चाहत के कारण एंटी एजिंग क्रीम का कारोबार जोरों पर चल रहा. सवाल यह उठता है कि आखिर हम बूढ़े होते ही क्यों हैं. इसके जवाब ढूंढने हमारे सहयोगी ओंकार सिंह जनौटी पहुंचे कोलोन के माक्स प्लांक इंस्टीट्यूट में, जहां भारत के कई रिसर्चर शरीर में होने वाले बदलावों को समझने में लगे हैं.

उम्र का बढ़ना जारी रहता है, बुढ़ापे को कोई रोक नहीं सकता, लेकिन अगर आप अपना ठीक तरह ख्याल रखें तो बुढ़ापे में भी बिलकुल तंदुरुस्त रह सकते हैं. इसी पर बात करेंगे माक्स प्लांक की ही आंचल श्रीवास्तव से. आंचल खाने पीने के असर को उम्र के बढ़ने से जोड़ कर देख रही हैं. उनके शोध के शुरुआती नतीजे बताते हैं कि खाने में प्रोटीन की मात्रा कम करने से ज्यादा वक्त तक जीने में मदद मिल सकती है.

जर्मनी में होली

मंथन में इस बार मचेगी होली की धूम. जर्मनी में गर्मियों के हर महीने में अलग अलग शहरों में होली मनाने की परंपरा शुरू हो गई है. जब बॉन में होली मनाई गई, तो हमारी सहयोगी मानसी पहुंची वहां, यह देखने के लिए कि यूरोपीय लोग हमारे त्योहार को किस अंदाज में मनाते हैं. उम्मीद है रंगों से भरपूर यह रिपोर्ट आपको पसंद आएगी. 100वें मंथन का यह खास एपिसोड, शनिवार सुबह 10.30 बजे डीडी नेशनल पर.

आईबी/ओएसजे

DW.COM