1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

मंत्रिमंडल के साथ मोदी ने शपथ ली

नरेंद्र मोदी ने भारत के प्रधानमंत्री के पद के लिए शपथ ग्रहण किया. उनके मंत्रिमंडल मे 45 मंत्री होंगे. समारोह में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ सहित दक्षिण एशियाई देशों के नेता भी शामिल हुए.

नरेंद्र मोदी स्वतंत्र भारत के 15वें प्रधानमंत्री हैं. शपथ ग्रहण करने के बाद अपनी वेबसाइट पर जारी बयान में उन्होंने कहा कि वह भारत की "विकास यात्रा को नई ऊंचाइयों तक लेकर जाना चाहते हैं. "हम साथ मिल कर भारत के लिए एक शानदार भविष्य बनाएंगे. आईए हम एक ताकतवर, विकसित और संयुक्त भारत का सपना देखें जो अंतरराष्ट्रीय समुदाय के साथ मिलकर विश्व शांति और विकास के लिए काम करे."

मोदी के साथ उनके मंत्रिमंडल के सदस्यों को भी शपथ दिलाई गई. इनमें सुषमा स्वराज, अरुण जेटली, नितिन गडकरी, राजनाथ सिंह और वेंकैया नायडू शामिल हैं. मंत्रिमंडल में कुल 45 मंत्रियों के शामिल हो रहे हैं. इनमें से 23 केंद्रीय मंत्री और 22 राज्य मंत्री होंगे. मनमोहन सिंह की सरकार में 43 राज्य मंत्री थे. मोदी मंत्रिमंडल में महिलाओं की बड़ी भूमिका रहेगी. स्मृति इरानी सहित नजमा हेप्तुल्लाह और सुषमा स्वराज अहम पदों पर नजर आएंगी.

राष्ट्रपति भवन में आयोजित समारोह में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ, अफगान राष्ट्रपति हामिद करजई, श्रीलंका के राष्ट्रपति महिंदा राजपक्षे, नेपाल के प्रधानमंत्री सुशील कोइराला, भूटान के प्रधानमंत्री त्शेरिंग तोबगे और मालदीव के राष्ट्रपति अब्दुल्लाह यामीन ने भाग लिया. शपथ ग्रहण समारोह में 3,000 से ज्यादा मेहमानों को बुलाया गया.

लगभग तीन दशकों में पहली बार किसी पार्टी को पूर्ण बहुमत मिला है. बीजेपी ने 2014 चुनावों में लोकसभा की कुल 543 में से 282 सीटें हासिल कीं. माना जा रहा है कि मोदी सरकार 23 साल पहले शुरू हुए आर्थिक और वित्तीय सुधार नीतियों को दोबारा पटरी पर लाएगी. शपथ ग्रहण समारोह के कुछ ही देर पहले मुंबई शेयर बाजार में और तेजी आई और सूचकांक ने 25,000 अंकों की सीमा पार कर ली.

एमजी/एमजे(पीटीआई, एएफपी, डीपीए)

संबंधित सामग्री