1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

मंगल ग्रह से ठंडा हुआ अमेरिका

हफ्ते भर से अमेरिका में इस कदर सर्दी पड़ रही है कि देश के कुछ हिस्से मंगल ग्रह से भी सर्द हो गए हैं. रेल, सड़क और वायु यातायात बुरी तरह प्रभावित हैं और ठंड दूसरे इलाकों में भी फैल रही है.

उत्तरी ध्रुव पर सर्द हवा के गुबार से अमेरिका जम रहा है और इस सिलसिले में पूरे देश में कम से कम नौ लोगों की मौत की खबर है. अधिकारियों ने अमेरिका के आधे क्षेत्र को सर्द हवाओं की चेतावनी दी है और उन्हें मौसम से खबरदार किया गया है. राष्ट्रीय मौसम विभाग का कहना है कि मध्य पश्चिम से दक्षिण पूर्व तक तापमान शून्य से 14 से 19 डिग्री नीचे रहेगा. बिजली की सप्लाई करने वाली पीजेएम इंटरकनेक्शन का कहना है कि सर्दी में बिजली की मांग बहुत बढ़ गई है और उन्हें सप्लाई में काफी दिक्कत हो रही है.

मंगल से सर्द

मिनेसोटा का बाबिट इलाका इस दौर में सबसे ठंडा क्षेत्र है, जहां सोमवार के आंकड़ों के मुताबिक तापमान शून्य से 38.3 डिग्री नीचे उतर गया. इतनी सर्दी मंगल ग्रह पर भी दर्ज नहीं की गयी है. नासा के क्यूरियोसिटी रोवर ने लाल ग्रह से दो जनवरी के जो आंकड़े भेजे हैं, उसके मुताबिक वहां का तापमान -36 डिग्री है. अमेरिका की सर्दी के आगे कजाकिस्तान और मंगोलिया की सर्दी भी फीकी पड़ गई है, जहां पारा शून्य से 22-23 डिग्री नीचे है. यहां तक कि रूस के साइबेरिया में भी अमेरिका से कम सर्दी पड़ रही है. अपनी ठंड के लिए मशहूर साइबेरिया में तापमान करीब -33 डिग्री सेल्सियस है.

मंगलवार को सर्दी की वजह से ध्रुवीय भालुओं का भी बुरा हाल रहा, जिन्हें जमी हुई बर्फ में रहने की आदत है. शिकागो के लिंकन चिड़ियाघर की प्रवक्ता शेरॉन डेवर ने बताया कि 14 साल की ध्रुवीय भालू अनाना ज्यादातर समय अपने दड़बे में ही दुबकी रही.

छत की तलाश

बेघरों के लिए आशियाने का जुगाड़ किया जा रहा है और जिन लोगों के सिर पर छत नहीं है, उन्हें सार्वजनिक इमारतों में पनाह दी जा रही है. 33 साल के डेनियल डैशनर यूं तो मिलवौकी में एक पुल के नीचे सोते हैं लेकिन अब उन्हें सिर छिपा कर सोने की जगह की तलाश है, "अगर मेरे पास चार या पांच कंबल हों, तो मैं आराम से सो सकता हूं. लेकिन जब ऐसी हवा चलती है, तो चाहे कितने भी कंबल हों, सर्दी सीधे मुझ पर हमला करती है." राहत की बात सिर्फ इतनी है कि ऐसा मौसम बहुत लंबे समय तक नहीं रहेगा. एक्यूवेदर डॉट कॉम का कहना है कि उत्तरी ध्रुव की गड़बड़ियां इसी हफ्ते खत्म हो सकती हैं.

न्यूयॉर्क में भी बेघरों के आशियाने में 80 बिस्तरों वाला हाउस पूरी तरह भरा था, जबकि 180 लोगों ने चर्चों और कैफे में शरण ली. जॉर्जिया के कोलंबस में घर से बाहर रात बिताने की वजह से 51 साल के एक शख्स की मौत हो गई, जबकि मैसाचूसेट्स में दो लोगों की मौत सर्दी से हो गई. शिकागो के आस पास से चार लोगों की मौत की खबर है. इंडियानापोलिस में एक बुजुर्ग महिला अपने घर के बाहर मृत पाई गई.

5 अरब डॉलर का नुकसान

सर्दी से अमेरिका की अर्थव्यवस्था भी बुरी तरह प्रभावित हुई है और खजाने को करीब पांच अरब डॉलर का नुकसान उठाना पड़ा है. दुकानें बंद हैं और ग्राहकों की संख्या बहुत घट गयी है. प्लानालिटिक के वरिष्ठ वाइस प्रेसिडेंट इवान गोल्ड का कहना है कि जब 20 करोड़ लोग अपने बिजली के बिलों को देखेंगे, तो उनके होश उड़ सकते हैं. मंगलवार को 2,380 अमेरिकी उड़ानों को रद्द करना पड़ा, जबकि 2,912 विमान देर से उड़े.

मिनियापोलिस और शिकागो के स्कूलों को मंगलवार को भी बंद रखा गया. हालांकि शिकागो की योजना है कि वह स्कूल फिर से खोल देगा. वहां सोमवार को पारा शून्य से 24 डिग्री नीचे चला गया, जिससे 130 साल पुराना रिकॉर्ड टूट गया. यहां आमट्रैक ट्रेनों की गति पर लगाम लग गई और करीब 500 यात्री बीच रास्ते में ही अटक गए.

एजेए/आईबी (रॉयटर्स)

DW.COM