1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

भूकंप से हिले दिल्ली और कराची

बुधवार रात पाकिस्तान को एक तगड़े भूकंप ने हिला दिया. दक्षिण पश्चिमी पाकिस्तान में रात एक बजकर 20 मिनट पर आए इस भूकंप की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 7.2 आंकी गई. दिल्ली और दुबई में भी झटके महसूस किए गए.

default

बाहर बीती रात

भूकंप में राहत देने वाली बात यह रही कि इसका केंद्र आबादी के आसपास नहीं था. अमेरिकी भूगर्भ सर्वे के मुताबिक भूकंप का केंद्र बलूचिस्तान के दलबानदीन शहर के पास जमीन से 80 किलोमीटर नीचे था. फिलहाल प्रभावित इलाकों से जान या माल के नुकसान की खबरें नहीं आई हैं लेकिन वैज्ञानिकों का कहना है कि भूकंप का केंद्र जमीन से काफी नीचे था इसलिए उम्मीद है कि ज्यादा नुकसान नहीं होगा.

भूकंप का असर

लेकिन भूकंप का असर जबर्दस्त रहा. रात को एक बजकर 23 मिनट पर दलबानदीन शहर से 400 किलोमीटर दूर कराची शहर में लोग झटके से जागे और अपने अपने घरों से बाहर निकल आए. लोग काफी देर तक घरों के बाहर रहे. हालांकि अधिकारियों ने किसी नुकसान की बात नहीं कही है. लेकिन बलूचिस्तान के छोटे कस्बों और गांवों में, जहां संचार की सुविधा नहीं है, वहां से अभी तक कोई खबर नहीं आई है. उधर भारत के राजस्थान में लोगों ने घरों की दीवारों में दरारें पड़ने की बात कही है. पैसिफिक सूनामी केंद्र ने सूनामी की चेतावनी नहीं दी है.

कम गहराई का इस स्तर का भूकंप खासा नुकसान कर सकता है. पाकिस्तान अब तक भी 2005 के विनाशकारी भूकंप के असर से उबर नहीं पाया है. उस भूकंप ने 70 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हुई थी.

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः एस गौड़

DW.COM

WWW-Links