1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

भूकंपः चीन में राष्ट्रीय शोक दिवस

चीन में वहां आये भूकंप के मृतकों के सम्मान में आज राष्ट्रीय शोक दिवस मनाया गया. पिछले हफ्ते उत्तरपश्चिमी चीन के चिंगहाई प्रांत के एक दूरवर्ती इलाके युशु में आए भूकंप में दो हज़ार से भी अधिक लोगों की जानें जा चुकी हैं.

default

भूकंप के एक सप्ताह बाद भी मृतकों की गिनती जारी है. करीब दो सौ लोग अभी भी लापता हैं. इस के अलावा बारह हज़ार लोग घायल हुए हैं.

चिंगहाई प्रांत के युशु ज़िले में ज़्यादातर आबादी तिब्बतियों की है. यहां स्थानीय समय के अनुसार सुबह दस बजे तीन मिनट का मौन धारण किया गया. राष्ट्रीय एकता का उदाहरण देते हुए चिंगहाई प्रांत की राजधानी शीनिंग में हज़ारों जवानों, सरकारी कर्मचारियों, छात्रों और नागरिकों को हलकी बर्फ़बारी के बीच काले कपडे़ पहने और सर झुकाए देखा गया. वहीं पेइचिंग में राष्ट्रपति हूं चिंथाओ समेत अन्य प्रमुख नेताओं ने भी सर झुकाए मौन रख कर मृतकों को श्रद्धांजलि अर्पित की.

पेइचिंग में राष्ट्रीय ध्वज को आधा झुकाया गया. साथ ही दुनिया भर के चीनी दूतावासों में भी चीन के राष्ट्रीय ध्वज को शोक में झुका कर रखा गया. सभी मुख्य सरकारी अखबारों तथा उनके ओनलाइन संस्करणों पर काली पट्टी देखी गयी. साथ ही कई सरकारी विभागों की वेबसाइटों से रंगों को हटा दिया गया.

सभी प्रकार की मनोरंजन की गतिविधयों को भी रोक दिया गया. इस में सिनेमा घर, फुटबॉल के मैच, कई टी.वी प्रोग्राम और अगले महीने होने वाले शंघाई एक्सपो से जुडी़ सभी गतिविधियां शामिल हैं. एच.बी.ओ और ई.एस.पी.एन जैसे विदेशी टीवी चैनलों का प्रसारण भी रोक दिया गया है. हालांकि सी.एन.एन और बी.बी.सी जैसे समाचार चैनलों पर कोई असर नहीं पड़ा है.

China trauert um die Opfer des Erdbebens Flash-Galerie

राहत और बचाव का काम अभी भी जारी है. खराब मौसम के चलते बचाव दलों को भारी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है. बर्फबारी के बीच 13,000 फीट की ऊंचाई पर राहत सामग्री पहुंचाना भी बेहद मुश्किल हो रहा है. मौसम वैज्ञानिकों का मानना है कि आने वाले दिनों में मौसम और भी खराब हो सकता है और बर्फ और बारिश के बीच तापमान शून्य के नीचे जा सकता है.

बताया जा रहा है कि यह भूकंप रिश्टर स्केल पर 6.9 की तीव्रता का था. चीन में यह भूकंप का पहला मामला नहीं है. इस से पहले 2008 में चीन के सिचुआन प्रांत में आए भूकंप में अस्सी हज़ार जानें गईं थीं और 85 अरब डॉलर का नुक्सान हुआ था.

रिपोर्टः एजेंसियां/ईशा भाटिया

संपादनः आभा मोंढे

संबंधित सामग्री