1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

"भारत लड़ेगा पर हम निपट लेंगे"

दक्षिण अफ्रीकी टीम जानती है कि पहले टेस्ट में बुरी तरह पिटी भारतीय टीम घायल शेर की तरह वापसी कर सकती है. इसलिए उसने इस वापसी से निपटने के लिए पूरी तैयारी कर ली है. ग्रेम स्मिथ ने कहा है कि उनकी टीम लड़ने को तैयार है.

default

पहले टेस्ट मैच में दक्षिण अफ्रीका ने भारत को एक पारी और 25 रनों से पीट दिया. स्मिथ ने गुरुवार को कहा, "पहले टेस्ट में जो कुछ हुआ, उसके बाद हम उनसे बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद करते हैं. खास तौर पर उनकी बैटिंग के लिहाज से."

Kricket Mahendra Singh Dhoni und Graeme Smith

स्मिथ ने कहा कि भारत एक अनुभवी टीम है और उम्मीद है कि वे इस बार वापस आकर लड़ेंगे. उन्होंने कहा, "वे अपने अनुभव का इस्तेमाल कर सकते हैं. इसलिए हम किसी तरह की ढिलाई नहीं बरत सकते."

हालांकि स्मिथ को उम्मीद है कि पहले मैच में शानदार प्रदर्शन का उनकी टीम के हौसले पर अच्छा असर पड़ेगा और वे किंग्समीड टेस्ट में दुनिया की नंबर एक टीम भारत को और कड़ी टक्कर देंगे. उन्होंने कहा, "जब आप एक पारी और 25 रन से जीतते हैं तो खेल से बहुत सारी सकारात्मक ऊर्जा और आत्मविश्वास मिलता है." स्मिथ का मानना है कि इस सीरीज में उन्होंने बड़ा कदम आगे बढ़ा लिया है जबकि भारतीय टीम अब भी शक ओ शुबहों से जूझ रही है.

डरबन में दक्षिण अफ्रीका का हाल का रिकॉर्ड अच्छा नहीं रहा है. पिछले दो टेस्ट मैच तो वह बड़े अंतर से हारा है. पिछले साल के बॉक्सिंग डे टेस्ट में इंग्लैंड ने इसी मैदान पर पारी के अंतर से उसे हराया. उसके बाद ऑस्ट्रेलिया ने भी दक्षिण अफ्रीका को डरबन के किंग्समीड में 175 रन से हराया. 26 दिसंबर को बॉक्सिंग डे के नाम से जाना जाता है और उस दिन शुरू होने वाले टेस्ट मैच को बॉक्सिंग डे टेस्ट कहते हैं. इस बार भी भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच 26 दिसंबर यानी बॉक्सिंग डे को मैच शुरू हो रहा है.

लेकिन स्मिथ इससे घबराए हुए नहीं हैं. उनका मानना है कि टीम उस प्रदर्शन को भुलाकर आगे बढ़ेगी. उन्होंने कहा, "पिछले दो मैचों में हमने अच्छा नहीं खेला. लेकिन उसे ठीक करने की जिम्मेदारी हमारी ही है."

इसलिए स्मिथ ने पूरी रणनीति बना ली है. उन्होंने बताया, "हमने इस बात पर खुलकर चर्चा की है कि डरबन में कैसे खेलना है और किन बातों का हम फायदा उठा सकते हैं. हमारे पास ऐसे कई लड़के हैं जो उस विकेट को जानते हैं."

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः ए जमाल

DW.COM

WWW-Links