1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

भारत में मतदान का अंतिम दिन

भारत में आज मतदान का अंतिम दिन है. पिछले छह हफ्तों से भारत में करीब 80 करोड़ लोग लोकसभा में अपने प्रतिनिधियों को चुनने में लगे है. नतीजे 16 मई को आने हैं.

वाराणसी में भारत में विपक्ष की सबसे बड़ी पार्टी बीजेपी से प्रधानमंत्री पद उम्मीदवार नरेंद्र मोदी का सामना उसी चुनाव क्षेत्र में आम आदमी पार्टी के अरविंद केजरीवाल से हो रहा है. कांग्रेस के अजय राय भी इसी चुनाव क्षेत्र से लड़ रहे हैं. चुनाव की गर्मागर्मी के साथ तापमान के भी 42 डिग्री तक पहुंचने की आशंका है.

उत्तर प्रदेश, बिहार और पश्चिम बंगाल में करीब छह करोड़ लोग आज के दिन अपने नेताओं को चुनेंगे. पश्चिम बंगाल में वोटिंग शुरू होने के साथ ही हिंसा होने की खबर आई. सीपीआईएम के प्रवक्ता अजय दासगुप्ता के मुताबिक पश्चिम बंगाल में सरकार संभाल रही तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने उनके पार्टी समर्थकों पर गोलियां चलाईं. इस बीच प्यू रिसर्च सेंटर के एक सर्वे का कहना है कि भारत में करीब 63 प्रतिशत लोग कांग्रेस की सरकार से थक चुके हैं और बीजेपी की सरकार चाहते हैं. केंद्रीय चुनाव आयोग के मुताबिक पिछले छह हफ्तों से लेकर अब तक 66.7 प्रतिशत मतदान हुआ है. 2009 के चुनावों में करीब 58 प्रतिशत लोगों ने वोट डाले थे.

बीजेपी की जीत की संभावना को देखते हुए भारत में शेयर बाजार की प्रतिक्रिया बहुत अच्छी रही और बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज के अंक 23,435 पार कर गए. पिछले चुनावों में मतदान के बाद जनमत सर्वेक्षणों की भविष्यवाणी अक्सर गलत साबित हुई है लेकिन इसके बावजूद बाजार में माहौल अच्छा है. वहीं कांग्रेस सरकार से संबंधित भ्रष्टाचार के आरोप और बढ़ती महंगाई उसके खिलाफ काम कर सकती है. कांग्रेस सरकार के दौरान आर्थिक विकास भी धीमा हुआ है. विशेषज्ञों का कहना है कि बीजेपी के नेतृत्व में एनडीए गठबंधन की सरकार को बहुमत यानि 272 सीटें हासिल हो सकती हैं. लेकिन अगर गठबंधन नहीं जीतता है तो बाजार में फिर से हलचल मच सकती है.

एमजी/एएम(एपी, एएफपी)

संबंधित सामग्री