1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

भारत में बैडमिंटन लीग

बैडमिंटन की दुनिया को भारत ने एक उछाल देते हुए आईपीएल की तर्ज पर लीग शुरू करने का फैसला किया है, जो खेल का सबसे बड़ा लीग मुकाबला होगा. छह शहरों के नाम पर दो हफ्ते यह लीग चलेगा.

हालांकि टूर्नामेंट शुरू होने से पहले मलेशिया के सुपरस्टार ली चोंग वी चोटिल हो बैठे हैं और उनका मुकाबले में शामिल होना पक्का नहीं है. बेस्ट ऑफ थ्री मुकाबलों में पहले दो गेम 21 अंक के होंगे, जिन्हें जीतने के लिए दो अंक का अंतर जरूरी होगा. अगर जरूरत पड़ी तो तीसरा निर्णायक गेम खेला जाएगा, जो 11 अंक का होगा. मैच बुधवार से खेले जाएंगे.

अरबों रुपये के इंडियन बैडमिंटन लीग (आईबीएल) के पहले दो गेम में सातवें और 14वें अंक के बाद कमर्शियल ब्रेक होगा, जबकि तीसरे गेम में छठे अंक के बाद एक मिनट का ब्रेक होगा.

भारत के प्रसिद्ध बैडमिंटन खिलाड़ी प्रकाश पादुकोण का कहना है, "बैडमिंटन ने पहले कभी इतना पैसा नहीं देखा है. निश्चित तौर पर यह भारतीय बैडमिंटन के लिए सबसे अच्छी चीज है."

ऑल इंग्लैंड चैंपियन रह चुके पादुकोण कहते हैं, "इससे खेल की लोकप्रियता बढ़ेगी और खिलाड़ियों को ज्यादा पैसा भी मिलेगा. हालांकि बहुत कुछ इस बात पर निर्भर करेगा कि पहला टूर्नामेंट कितना सफल रहता है."

Saina Nehwal Indien Badminton London 2012 Badminton

साइना नेहवाल पर होंगी नजरें

भारत में ट्वेन्टी 20 क्रिकेट के लीग आईपीएल की शानदार कामयाबी के बाद दूसरे खेलों ने भी लीग मुकाबले शुरू किए हैं, जिनमें हॉकी, गोल्फ, फुटबॉल और टेनिस शामिल हैं. इसके बाद बैडमिंटन में भी कुछ ऐसा ही करने का फैसला किया गया.

पिछले महीने बैडमिंटन टीमों के मालिकों ने नीलामी में बड़े खिलाड़ियों की बोली लगाई. इनमें भारत के अलावा दूसरे देशों के खिलाड़ी भी शामिल हैं. हर टीम में छह भारतीय, चार विदेशी और भारत का एक उभरता हुआ युवा बैडमिंटन खिलाड़ी शामिल है. लीग के शुरुआती मुकाबले में टीमों को एक मैच अपने शहर में और एक प्रतिद्वंद्वी के शहर (होम और अवे मैच) में खेलना है. टॉप चार टीमें सेमीफाइनल के लिए चुनी जाएंगी.

सभी मुकाबलों में पांच मैच होंगे, दो पुरुष सिंगल, एक महिला सिंगल, एक पुरुष डबल और एक मिश्रित डबल. फाइनल मैच 31 अगस्त को मुंबई में खेला जाएगा.

भारत के बैडमिंटन कोच रह चुके विमल कुमार का कहना है, "नए नियमों के साथ मैच ज्यादा मजेदार हो जाएंगे. आक्रामक खेलने वालों को मदद मिलेगी."

भारत के पूर्व क्रिकेट कप्तान सुनील गावस्कर बैडमिंटन के शौकीन हैं और मुंबई टीम से जुड़े हैं. उनकी टीम पुणे, लखनऊ, दिल्ली, बैंगलोर और हैदराबाद की टीमों से भिड़ेगी.

चीन ने अपने खिलाड़ियों को यहां भेजने से इनकार कर दिया, जिससे आईबीएल को झटका लगा. चीन में बैडमिंटन के शानदार खिलाड़ी हैं. थाइलैंड की वर्ल्ड चैंपियन रचनोक इनतानोन भी इस लीग में नहीं खेल रही हैं.

आईबीएल से पहले ग्वांगझो में हुए टूर्नामेंट में भारतीय खिलाड़ियों ने अच्छा प्रदर्शन किया है, जिसमें पीवी सिंधु का कांस्य पदक और साइना नेहवाल और पारुपल्ली कश्यप का क्वार्टर फाइनल तक पहुंचना शामिल है.

हैदराबाद ने अपने ही शहर की नेहवाल को सवा लाख डॉलर में खरीदा है, जबकि गावस्कर ने ली को 1,35,000 डॉलर में. हैदराबाद की सिंधु को लखनऊ ने 80,000 डॉलर में और कश्यप को बैंगलोर ने 75,000 डॉलर में खरीदा है.

भारत की पूर्व महिला चैंपियन अमी घिया का कहना है, "सिंधु और साइना को इतने पैसे मिले हैं, जिस पर मुझे बहुत ताज्जुब नहीं हो रहा है. वे इसकी हकदार हैं."

एजेए/एमजे (एएफपी)

DW.COM

WWW-Links