1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

भारत में ठंड ने ली 83 लोगों की जान

भारत में शीत लहर से मरने वालों की संख्या बढ़ कर 83 हो गई है. जम्मू कश्मीर से चली ठंडी हवाओं का असर उत्तर प्रदेश से राजस्थान मध्यप्रदेश तक है. जहां पारा रिकॉर्ड तोड़ गिर रहा है. इसी बीच लेह में -20 डिग्री सेल्सियस.

default

कश्मीर घाटी ठंड से बेजार है ही. रविवार को पहलगाम में -11 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया. बिहार में कड़ाके की ठंड के कारण सभी सरकारी और निजी स्कूलों को 14 जनवरी तक छुट्टी दे दी गई है. बिहार में पिछले 14 दिनों से शीतलहर ने मुश्किल कर रखी है. उत्तर प्रदेश में ठंड से और दो लोगों की मौत हो गई है. इसी के साथ शीत लहर ने अब तक कुल 83 लोगों की जान ले ली है. हरदोई में रविवार को ठंड से दो लोगों की मौत हुई.

मौसम विभाग ने जानकारी दी है कि उत्तर प्रदेश के अधिकतर हिस्से ठंड का शिकार हैं और राज्य में कुछ जगहों पर बादल भी छा सकते हैं. सोमवार सुबह कानपुर में 5 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया जो कि इस समय रहने वाले सामान्य तापमान से दो डिग्री कम है. वहीं बनारस में 4 डिग्री सेल्सियस तापमान रहा.
फिलहाल यूरोप के अधिकतर देशों में तापमान 7 से 15 के बीच चल रहा है और उत्तर और मध्य भारत के अधिकतर शहरों में तापमान का यही हाल है.

लेह में सोमवार को तापमान गिरकर -20.2 डिग्री तक पहुंच गया. करगिल में भी तापमना माइनस 15.8 डिग्री दर्ज हुआ है. घाटी इस वक्त ठंड की जकड़ में है. यह दौर लगभग 40 दिन लंबा होता है जिसे स्थानीय लोग चिलाई कलां कहते हैं. मौसम विभाग ने 12 जनवरी से चार दिन के लिए बर्फबारी अनुमान जाहिर किया है.

रिपोर्टः एजेंसियां/आभा एम

संपादनः वी कुमार

DW.COM

WWW-Links