1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

भारत में 'कन्या बचाओ' कहेंगी मिस यूनिवर्स

मिस यूनिवर्स स्टेफानिया फर्नान्डीज एड्स और कन्या भ्रूण हत्या के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए भारत आ रही हैं. भारत के छह शहरों की वो यात्रा करेंगी और लोगों को इन मुद्दों पर जानकारी देंगी.

default

25 जून से पांच जुलाई तक मिस युनिवर्स भारत के छह शहरों में जाएंगी. वहां झुग्गी बस्तियों और अनाथालयों में लोगों से मिलेंगी. उनकी यात्रा का उद्देश्य लोगों में एड्स के प्रति जानकारी बढ़ाना और कन्या भ्रूण हत्या रोकना है.

इस टूर की आयोजक फैशन डिज़ाइनर संजना जॉन ने पीटीआई समाचार एजेंसी से बात करते हुए कहा है, "दिल्ली, मुंबई, बैंगलोर की यात्रा तय हो गई है और हम आगे कोलकाता, पुणे जयपुर के बारे में विचार कर रहे हैं."

अपनी यात्रा के दौरान फर्नान्डीज 'परीक्षण करवाओ' मुहीम का समर्थन करेंगी ताकि लोग एचआईवी का परीक्षण करवाएं और अज्ञानता के कारण फैलती इस बीमारी को रोका जा सके.

ये यात्रा आईजी इंटरनेशनल ने आयोजित की है जिसकी संस्थापक संजना हैं. आईजी इंटरनेशल मिस यूनिवर्स संगठन के साथ 2003 से जुड़ी हुई और इस टाइटल को जीतने वाली कई सुंदरियों को भारत लाईं है.

Studenten der Krishna Niketan School

एड्स के खिलाफ मुहिम

संजना ने कहा, "2004 में हमने जेनिफर हॉकिन्स को भारत बुलाया था और 2005 में नताली ग्लेबोवा को. इस यात्रा का उद्देश्य मुख्यतया लोगों को एड्स के बारे में जागरूक करना होता है लेकिन इस बार हमने 'लड़कियों को बचाओ' इसे भी अपने विषयों में शामिल किया है."

संजना का कहना है, "लोग हमेशा उनकी बातें सुनते हैं जिनके जैसा वे बनना चाहते हैं. मिस यूनिवर्स एक ग्लोबल फिगर है. ये बहुत अहम है कि वे भारत आएं."

भारत भ्रूण परीक्षण करवाने पर पाबंदी है लेकिन इसके बावजूद देश भर में अब भी हर साल कई बच्चियों की पैदा होते ही हत्या करने के मामले सामने आते हैं. हरियाणा और राजस्थान जैसे राज्यों में तो अब लड़कियों की तादाद चिंताजनक रूप से कम हो चुकी है. इन राज्यों के कई इलाकों में शादी के लिए लड़कियां नहीं मिल रही हैं.

रिपोर्टः पीटीआई/आभा मोंढे

संपादनः ओ सिंह

संबंधित सामग्री