1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

भारत में ऑर्डर न जाने से अमेरिका को फ़ायदा

राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कहा है कि उनकी आर्थिक योजना से अमेरिका आर्थिक बेहतरी के रास्ते पर है और नए कार्यस्थान व उद्योग चीन और भारत जाने के बजाय देश में बन रहे हैं.

default

अब सही रास्ते पर

राष्ट्रपति ओबामा ने विपक्षी रिपब्लिकन पार्टी पर आरोप लगाते हुए कहा कि जनवरी, 2009 में जब वह राष्ट्रपति बने, तो 10 साल तक ऐसी आर्थिक नीतियां चल रही थीं, जिनसे वृद्धि रुक गई थी, आमदनी घट रही थी और रिकॉर्ड घाटा हो रहा था. उन्होंने कहा कि इन्हीं नीतियों के चलते 1920 के दशक के बाद की सबसे भयानक आर्थिक मंदी का सामना करना पड़ा.

राष्ट्रपति ओबामा जॉर्जिया प्रदेश के अटलांटा में डेमोक्रेटिक पार्टी के एक चंदा अभियान में भाग ले रहे थे. उन्होंने ध्यान दिलाया कि वित्तीय संकट के कारण कुल मिलाकर 80 लाख अमेरिकी बेरोज़गार हुए. उन्होंने कहा कि यह कोई आकस्मिक घटना नहीं थी.

रिपब्लिकन पार्टी की नीतियों की धज्जियां उड़ाते हुए उन्होंने कहा कि 10 साल तक करोड़पतियों के टैक्स घटाए जाते रहे, कुछ लोगों का ख्याल रखते हुए ख़ास नियम बनाए जाते रहे, कामगारों को अकेले छोड़ दिया जाता रहा. यह पिछले प्रशासन व कांग्रेस में उनके दोस्तों का कार्यक्रम था.

उन्होंने कहा कि उनकी नीति ज़िम्मेदारी पर आधारित है, जो मध्य वर्ग पर ध्यान देता है. इससे अमेरिका दीर्घकालीन रूप से प्रतिस्पर्धा के लायक बनेगा, उद्योग और कार्यस्थान चीन और भारत जाने के बदले अमेरिका में पनपेंगे.

उन्होंने कहा कि हालात से उबरने में कुछ समय ज़रूर लगेगा, लेकिन 18 महीनों के बाद कहा जा सकता है कि वे सही रास्ते पर हैं.

रिपोर्ट: एजेंसियां/उभ

संपादन: ए जमाल

संबंधित सामग्री