1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

भारत पाक लड़ाई में दर्जन मरे

कश्मीर में भारत और पाकिस्तान की सेना के बीच भारी गोलीबारी जारी है. अधिकारियों के अनुसार मंगलवार रात और तीन लोग मारे गए. इसके साथ मारे जाने वालों की तादाद बढ़कर बारह हो गई है, दर्जनों लोग घायल हुए हैं.

सोमवार को दोनों देशों की लड़ाई में 9 लोग मारे गए थे जो एक दशक में एक दिन में मरने वालों की सबसे बड़ी संख्या है. गोलीबारी से बचने के लिए हजारों लोग सीमा के दोनों पार से घरबार छोड़कर भाग रहे हैं. कश्मीर पर भारत और पाकिस्तान के बीच आजादी के बाद से ही विवाद है लेकिन आम तौर पर इस तरह की गोलीबारी नियंत्रण रेखा पर होती रहती है.

भारतीय पक्ष की तरफ से पुलिस प्रमुख के राजेंद्र ने एएफपी को बताया कि पाकिस्तानी गोलीबारी में मंगलवार रात दो लोग मारे गए और 18 घायल हो गए. पाकिस्तानी पक्ष की ओर से एक स्थानीय अधिकारी शौकत अली ने कहा कि भारतीय सेना द्वारा दागे गए गोले के फटने से एक 19 वर्षीय लड़की की मौत हो गई. इलाके से एएफपी के एक रिपोर्टर का कहना है कि लड़ाई जारी है और गोलाबारी में मकानों और बिजली के ट्रांसफॉर्मरों को हुए नुकसान के बाद लोग इलाके से भाग गए हैं.

गंभीर मामला

भारतीय सुरक्षा बलों का कहना है कि इस बार पाकिस्तान से गोलीबारी पिछले मौकों से ज्यादा गंभीर है. सेना के प्रवक्ता एसडी गोस्वामी ने कहा, "पाकिस्तान ने हमारी चौकियों पर छोटे हथियारों और मोर्टार से हमला किया. हमने उचित ताकत से जवाब दिया." पाकिस्तान की सेना ने भारत पर बिना किसी उकसावे के गोलीबारी शुरू करने का आरोप लगाया है. 1989 से कश्मीर को आजाद करने या पाकिस्तान में मिलाने की मांग करने वाले विद्रोहियों के साथ हुई लड़ाईयों में दसियों हजार लोग मारे गए हैं. पाकिस्तान विद्रोहियों का समर्थन करता है.

2004 में दोनों देशों के बीच शांति प्रक्रिया शुरू किए जाने के बाद हिंसा में कमी आई थी लेकिन 2008 में मुंबई में पाकिस्तानी आतंकवादियों द्वारा किए गए हमले के बाद भारत ने शांति प्रक्रिया रोक दी थी. इस हमले में 166 लोग मारे गए थे. बाद में शांति वार्ता को शुरू करने की कई कोशिशें की गईं. पिछले महीने भारत ने विदेश सचिवों के स्तर पर बातचीत से ठीक पहले पाकिस्तानी राजदूत द्वारा कश्मीरी अलगाववादियों के बातचीत के बाद शांति वार्ता रोक दी.

भारत के गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को कहा कि भारत पाकिस्तान द्वारा सीमा के अतिक्रमण को बर्दाश्त नहीं करेगा. उन्होंने कहा, "पाकिस्तान को महसूस करना चाहिए कि भारत में एक निर्णायक सरकार सत्ता में आई है, जो इस तरह के मामलों पर चुप नहीं बैठेगी."

एमजे/आईबी (डीपीए, एएफपी)

DW.COM

संबंधित सामग्री