1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

भारत-पाक जोड़ी पहली बार सेमीफाइनल में

राजनीति में चाहे जो हो, शांति वार्ताएं टलती जाएं या फिर एक दूसरे पर शब्द बाण चलते रहें. लेकिन खेल की दुनिया का मामला कुछ और है. टेनिस में भारत और पाकिस्तान की जोड़ी यूएस ओपन के सेमीफाइनल में पहुंच गई है.

default

रोहन बोपन्ना और ऐसाम उल हक की जोड़ी पहली बार किसी ग्रैड स्लैम खिताब के इतने पास पहुंची है. खिताब से बस दो कदम दूर.

वेस्ले मूडी और डिक नॉर्मन से क्वार्टर फाइनल मुकाबले में भारत पाकिस्तान के खिलाड़ी पूरे लय में दिखे और शानदार जीत दर्ज की. उन्होंने विरोधियों को खूब छकाया और 7-5, 7-6 के स्कोर से मैच अपने नाम कर लिया. हारने वाले खिलाड़ी वरीयता में 10वें पायदान पर हैं जबकि बोपन्ना कुरैशी 16वें पायदान पर.

यूएस ओपन के डबल्स मुकाबलों में बोपन्ना अब भारत की आखिरी उम्मीद हैं और बुधवार को मिली जीत ने उनके हौसले बुलंद कर दिए हैं. बोपन्ना ने कहा, "आज मेरे दिल में जो भावनाएं उमड़ रही हैं उन्हें जाहिर कर पाना बेहद मुश्किल है ये शानदार मैच था जिसके अंत में हमें कामयाबी मिली और कई बार अपनी जीत पर यकीन नहीं हो रहा है."

बोपन्ना ने माना कि मुकाबला काफी कठिन था. रोहन ने कहा, "हमारे दोनों विरोधी हमसे 6-7 इंच लंबे थे ऐसे में उनकी सर्विस संभालना बेहद कठिन था लेकिन हमने भरोसे के साथ खेला और पूरे मैच के दौरान अपना आत्मविश्वास बचाए रखा."

फाइनल में जाने के लिए दोनों को अब एडुराडो श्वांक और होरैसियों जेबाल्लोस की गैर वरीय जोड़ी से भिड़ना होगा. अर्जेंटिना के इन दोनों खिलाड़ियों ने महेश भूपति और मैक्स मिर्नेई की जोड़ी को शिकस्त देकर सेमीफाइनल में कदम रखा है. इन्हें हरा पाना इतना आसान नहीं होगा. बोपन्ना ने कहा, "बाएं और दांए हत्था खिलाड़ियों की जोड़ी से मुकाबला कठिन होगा लेकिन ऐसान उल हक के साथ मैंने खूब मेहनत की है और हमारी अच्छी बन रही है उम्मीद है कि हमें कामयाबी मिलेगी."

रिपोर्टः एजेंसियां/एन रंजन

संपादनः ओ सिंह

DW.COM

WWW-Links