1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

वर्ल्ड कप

भारत ने जीता 12वां गोल्ड मेडल

कॉमनवेल्थ गेम्स में मेजबान भारत के बेहतरीन प्रदर्शन का सिलसिला जारी है. चौथे दिन पिस्तौल के निशानेबाजों ने सीधा गोल्ड पर निशाना साधा, जबकि तीरंदाजों ने भी भारत के लिए कांस्य पदक जीता. भारत के खाते में अब 12 स्वर्ण पदक.

default

25 मीटर रैपिड फायर पिस्तौल के टीम इवेंट में गुरप्रीत सिंह और विजय कुमार को स्वर्ण पदक मिला. इसके पहले तीरंदाजी के टीम इवेंट में भारत के भाग्यवती चानू, झानो हांदाह और गगनदीप कौर को कांस्य पदक मिला. उन्होंने मलेशिया की टीम को पीछे छोड़ दिया.

डॉ. कर्णी सिंह शूटिंग रेंज में चल रहे निशानेबाजी की प्रतियोगिता में भारत को शानदार सफलता मिली है. पिस्तौल से पहले राइफल से भी भारत के गगन नारंग और अभिनव बिंद्रा कमाल दिखा चुके हैं, जबकि महिला टीम ने भी जानदार प्रदर्शन किया है.

भारत के निशानेबाजों ने ही उसे अब तक सबसे ज्यादा मेडल दिलवाए हैं और आगे भी उनसे कई मेडलों की उम्मीद है. इधर गुरुवार को ही भारत महिला कुश्ती में अपना भाग्य आजमाने वाला है. आज 48, 55, 63, 72 किलो वर्ग में भारत की महिला खिलाड़ी फ्री स्टाइल या ग्रीको रोमन कुश्ती में उतरेंगी.

स्टार मुक्केबाजों अखिल कुमार (56 किलो) सुरंजॉय सिंह (52 किलो वर्ग) मनोज कुमार (64 किलो वर्ग) और अमनदीप सिंह (46-49) किलो, से भारत को काफी उम्मीदे हैं. वहीं भारोत्तोलन में सुधीर कुमार (77 किलो वर्ग) पर भी भारत की नजरें टिकी हैं.

रिपोर्टः एजेंसियां/आभा एम

संपादनः ए जमाल

DW.COM