1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

भारत को स्थायी सीट मिले: अमेरिकी विपक्ष

भारत यात्रा के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा के एयरफोर्स वन विमान पर चढ़ने से कुछ ही मिनट पहले रिपब्लिकन पार्टी ने कहा कि अमेरिका को भारत के सुरक्षा परिषद की स्थायी सीट के दावे का पूरा समर्थन करना चाहिए.

default

जॉन मैकेन

ताकतवर रिपब्लिकन नेता और सेनेटर जॉन मैकेन ने कहा, "अमेरिका को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की स्थायी सीट के भारतीय दावे का पूरा समर्थन करना चाहिए. अगर हम चाहते हैं कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर शांति और सुरक्षा बनाए रखने में भारत अपनी भूमिका अदा करे, तब दुनिया के इस सबसे बड़े लोकतंत्र को अंतरराष्ट्रीय राजनीति की ऊंची कुर्सी पर जगह मिलनी चाहिए."

भारत के समर्थन का मैकेन का यह बयान अब बेहद महत्वपूर्ण हो जाता है क्योंकि हाल ही में हुए मध्यावधि चुनावों के बाद रिपब्लिकन पार्टी को निचले सदन में बहुमत मिल गया है. राष्ट्रपति चु्नाव में ओबामा को टक्कर देने वाले मैकेन ने अपने भाषण में कहा, "दुनिया को चलाने के लिए जिम्मेदार प्रमुख संस्थानों में भारत को प्रतिनिधित्व मिलना ही चाहिए. अमेरिका को चाहिए कि वह अंतरराष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी, एशिया पैसिफिक इकॉनोमिक कोऑपरेशन फोरम और अन्य सभी संस्थाओं की सदस्यता भारत को दिलवाने के लिए जोर लगाए."

उन्होंने कहा कि भारत भी दुनिया भर में लोकतांत्रिक प्रशासन का प्रचार करने में कुदरती तौर पर नेतृत्व की क्षमता रखता है. मैकेन ने कहा, "मित्रो, भारत अमेरिका संबंधों से हमारी उम्मीदें बहुत ज्यादा हैं और हम उन्हें वहीं बनाए रखना चाहते हैं. मैं एक बात साफ तौर पर कहना चाहूंगा कि अगर अमेरिका और भारत को रणनीतिक साझेदारी बनानी है तो दोनों मुल्कों को इसकी इच्छा और इसकी रक्षा करने के बराबर मेहनत को तैयार रहना होगा."

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः ए कुमार

DW.COM

WWW-Links