1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

भारत के पास सबसे ज्यादा मैच जिताऊ हैं: किरमानी

1983 में वर्ल्ड कप जीतने वाली भारतीय क्रिकेट टीम के सदस्य रहे सैयद किरमानी का मानना है कि 2011 के वर्ल्ड कप में भारत की टीम सबसे ज्यादा संतुलित है और उसके पास सबसे ज्यादा मैच जिताऊ खिलाड़ी हैं.

default

किरमानी कहते हैं कि ऊपर से लेकर नीचे तक हर खिलाड़ी मैच जिताने की काबिलियत रखता है. उन्होंने कहा, "ग्रुप का कोई भी खिलाड़ी देश के लिए मैच जीत सकता है. कप्तान महेंद्र सिंह धोनी से लेकर महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर, विस्फोटक सहवाग, गंभीर, युवराज, सुरेश रैना या फिर यूसुफ पठान, इनमें से कोई भी हो सकता है."

Sachin Tendulkar

किरमानी के मुताबिक यह बेहद संतुलित टीम है और सबसे अच्छी बात है कि टीम फॉर्म में है. जब उनसे पूछा गया कि टीम में दूसरा विकेट कीपर नहीं है तो उन्होंने कहा कि इसमें फिक्र करने की कोई बात नहीं है. उन्होंने कहा, "हम उप महाद्वीप में अपने माहौल में खेल रहे हैं. अगर कोई चोटिल होता भी है तो किसी और खिलाड़ी को टीम में लाना ज्यादा मुश्किल नहीं होगा. शायद इसी वजह से चयन समिति ने दूसरा विकेट कीपर चुनने की जरूरत नहीं समझी."

भारतीय टीम को वर्ल्ड कप के लिए अपनी फेवरिट टीमों में बताते हुए 61 साल के किरमानी ने कहा, "मैं पिछले 28 साल से उम्मीद और प्रार्थना कर रहा हूं कि वही शान देश में लौटेगी."

किरमानी मानते हैं कि इस बार भारत के पास अच्छा मौका है. वह कहते हैं, "इस वक्त हमारी टीम काबिल है. अगर ज्यादा नहीं, तो दूसरी टीमों के मुकाबले वे बराबर तो खड़े होते ही हैं. हम 28 साल से वर्ल्ड कप की उम्मीद कर रहे हैं और ऐसा लगता है कि इस बार टीम में वह तमन्ना पूरी करने की काबिलियत है."

किरमानी कहते हैं कि चार बार की वर्ल्ड कप विजेता टीम ऑस्ट्रेलिया इस बार इंग्लैंड, दक्षिण अफ्रीका और भारत के सामने कमजोर पड़ेगी लेकिन उन्होंने सावधान किया कि कंगारुओं को कभी हल्के में नहीं लिया जाना चाहिए. उन्होंने कहा, "आप कुछ नहीं कह सकते. ऑस्ट्रेलिया कभी भी वापसी कर सकती है. आप उन्हें बाहर मानकर चल ही नहीं सकते. बेशक तीन बार वर्ल्ड कप जीतने वाले अनुभवी खिलाड़ी उनके पास नहीं हैं लेकिन ऑस्ट्रेलियाई खुद को दोबारा स्थापित करने की तैयारी में जुटे हैं."

88 टेस्ट खेलने वाले किरमानी का अनुमान है कि भारत, श्रीलंका, दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड आखिरी चार में पहुंच सकते हैं. लेकिन वह कहते हैं कि कोई भी टीम हैरान कर सकती है. उन्होंने कहा, "पाकिस्तान, न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया को कम नहीं आंका जा सकता. ऑस्ट्रेलिया की तरह पाकिस्तान के पास भी कई प्रतिभाशाली खिलाड़ी हैं जो हैरान करने की काबिलियत रखते हैं."

वर्ल्ड कप 19 फरवरी से बांग्लादेश की राजधानी ढाका में शुरू होगा.

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः ईशा भाटिया

DW.COM

WWW-Links