1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

भारत के खिलाफ एफ-16 का दुरुपयोग कर सकता है पाकिस्तान

अमेरिकी सांसदों ने पाकिस्तान को 8 एफ-16 लड़ाकू विमान बेचने के सरकार के फैसले पर चिंता जताई है. उन्हें आशंका है कि पाकिस्तान आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई के बजाय भारत के खिलाफ इन लड़ाकू विमानों का इस्तेमाल कर सकता है.

इन सांसदों ने ओबामा सरकार से पाकिस्तान को 8 लड़ाकू विमान बेचे जाने के फैसले की समीक्षा करने की अपील की है. बुधवार को हाउस ऑफ फॉरेन अफेयर्स समिति की एशिया एवं प्रशांत मामलों की उप समिति की ओर से अफगानिस्तान और पाकिस्तान के मुद्दे पर एक बैठक आयोजित की गई थी.

इस बैठक में सांसद मैट सैल्मन ने कहा, ''मेरे अलावा और भी कई कांग्रेस सदस्यों ने इन हथियारों को बेचे जाने के निर्णय और समय पर गंभीर सवाल उठाए हैं. दुर्भाग्य से भारत पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ा हुआ है. हालांकि पाकिस्तान का कहना है कि वह आतंकवादियों के खिलाफ इन हथियारों का इस्तेमाल करेगा लेकिन सवाल इस बात का भी है कि असल में वह इसके बजाय भारत या दूसरी क्षेत्रीय ताकतों के खिलाफ इनका इस्तेमाल कर सकता है.''

बैठक में सैल्मन की बात को अन्य कई सांसदों ने भी दोहराया. इस बैठक में सरकार का प्रतिनिधित्व अफगानिस्तान और पाकिस्तान के विशेष अमेरिकी प्रतिनिधि रिचर्ड ओल्सन ने किया.

ओबामा सरकार के तकरीबन 70 करोड़ डॉलर में पाकिस्तान को 8 ​एफ-16 बेचे जाने के इस फैसले पर अमरीकी संसद ने फिलहाल रोक लगा दी है.

एशिया एवं प्रशांत मामलों की उप समिति के अध्यक्ष इलियाना रॉस लेहटाइनेन ने भी अमेरिकी सरकार के इस फैसले पर चिंता जाहिर की है, ''मुझे लगता है कि हमें इस पूरे क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने के​ लिए पाकिस्तान के साथ सैन्य बिक्री को नियंत्रित करना चाहिए.''

आरजे/ओएसजे (पीटीआई)

DW.COM

संबंधित सामग्री