1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

भारत की सैनिक कार्रवाई की चेतावनी

भारतीय सेना प्रमुख ने सैनिक का सिर काटे जाने की घटना को माफ न किया जाने वाला बताया है. उन्होंने चेतावनी दी कि उकसावे के बाद फौज जवाबी कार्रवाई करने को स्वतंत्र है. भारत का दावा है कि पाकिस्तान साजिश कर हमले कर रहा है.

पिछले हफ्ते कश्मीर में नियंत्रण रेखा के पास दोनों पक्षों की गोलीबारी हुई. भारत का कहना है कि पाकिस्तानी सैनिकों ने दो भारतीय फौजियों को मार डाला और एक का सिर काट कर ले गए. इसके बाद भारत में जबरदस्त गुस्सा है. सेना प्रमुख जनरल बिक्रम सिंह के ताजा बयान से दोनों मुल्कों के बीच तनाव और बढ़ सकता है.

लगभग नौ साल के संघर्ष विराम के बाद कश्मीर की घाटी में भारत और पाकिस्तान के सैनिकों के बीच ताजा झड़प हुई है. दोनों कश्मीर पर अपना अधिकार जताते हैं. दोनों मुल्कों के बीच चार बार युद्ध हो चुका है, जिसमें से तीन बार कश्मीर के मुद्दे पर जंग लड़ी गई.

Armeechef Indien General Bikram Singh

जनरल बिक्रम सिंह

इस बीच भारत और पाकिस्तान के क्षेत्रीय कमांडरों ने पुंछ इलाके में फ्लैग मीटिंग की. दोनों पक्ष आगे संयम बरतने पर बातचीत कर रहे हैं. लेकिन इससे थोड़ी ही देर पहले जनरल सिंह ने कठोर बयान जारी किया. सिंह ने दिल्ली में प्रेस कांफ्रेंस में कहा, "आठ जनवरी को जो हमला हुआ, उसकी पहले से तैयारी की गई थी. ऐसी कार्रवाई के लिए पहले से तैयारी की जरूरत पड़ती है."

उन्होंने कहा कि इस तरह के उकसावे की कार्रवाई के बाद भारत के पास इस बात का फैसला करने का अधिकार है कि क्या वह जवाबी कार्रवाई करता है, "मैं उम्मीद करता हूं कि उकसावे की स्थिति में नियंत्रण रेखा पर मेरे सभी कमांडर चौकस और आक्रामक रहेंगे."

इस महीने हुए संघर्ष में भारत और पाकिस्तान दोनों ही तरफ के दो दो जवान मारे गए हैं. भारत का कहना है कि उसके एक सैनिक का सिर काट लिया गया है और अभी तक उसका सिर नहीं मिला है. इस्लामाबाद का दावा है कि पहले भारतीय सैनिक नियंत्रण रेखा पर उसके हिस्से में 600 गज तक घुस आए और उन्होंने एक पाकिस्तानी सैनिक को मार डाला. उसका कहना है कि बाद में गश्त लगाते वक्त जब भारतीय सैनिक मिले, तो उन्हें मार गिराया गया.

Indien Pakistan Grenzkonflikt Grenze Beerdigung Soldat in Kaschmir

मृत सैनिक का अंतिम संस्कार

पाकिस्तान का दावा है कि छह जनवरी की उस घटना के बाद गुरुवार को भी उसके एक सैनिक को मार डाला गया. सिंह का कहना है कि सिर काटना एक घृणित कार्य है और यह सैनिक मर्यादाओं के खिलाफ है. हेमराज सिंह नाम के जिस सैनिक का सिर काटा गया है, उसके परिवार वालों ने भूख हड़ताल कर दी है. वे कटा हुआ सिर वापस मांग रहे हैं. छह दिनों से भूख हड़ताल के बीच परिवार वालों की मांग है कि जब तक सेना प्रमुख बिक्रम सिंह उनके गांव आकर उन्हें इस बात का दिलासा नहीं देंगे कि हेमराज सिंह का सिर वापस लाया जाएगा, तब तक वे अन्न नहीं छुएंगे.

हेमराज की पत्नी धर्मवती, मां मीना और एक चचेरे भाई नरेंद्र की हालत खराब होती जा रही है और उनकी सेहत की जांच के लिए डॉक्टरों की टीम तैनात की गई है. उत्तर प्रदेश के मथुरा जिले के खैरेर गांव से ताल्लुक रखने वाले हेमराज के घर पर कई और लोग भी जमा हैं. भारतीय सेना प्रमुख जनरल सिंह ने दिल्ली में कहा है कि वह हेमराज के घर वालों का दर्द समझ सकते हैं और परिवार के लिए जो कुछ भी हो सकेगा, वह जरूर करेंगे. दिल्ली से करीब 160 किलोमीटर दूर इस गांव में भारी संख्या में पुलिस बल को तैनात किया गया है.

एजेए/एमजे (रॉयटर्स, पीटीआई)

DW.COM

WWW-Links