1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

वर्ल्ड कप

भारत की झोली में सोना ही सोना

कॉमनवेल्थ गेम्स के चौथे दिन भारत को तीन सोना और इतने ही चांदी के पदक मिले. कुल 14 स्वर्ण के साथ मेजबान दूसरे नंबर पर है, जबकि ऑस्ट्रेलिया पहले नंबर पर बरकरार. सबसे कामयाब भारत के निशानेबाज रहे, जो लगातार पदक जीत रहे हैं.

default

गुरप्रीत को दो सोने के तमगे

रैपिड फायर के अलावा गुरप्रीत सिंह और ओंकार सिंह ने एयर पिस्तौल मुकाबले में गोल्ड मेडल जीता. इससे पहले 25 मीटर रैपिड फायर पिस्तौल के टीम इवेंट में गुरप्रीत सिंह और विजय कुमार को स्वर्ण पदक मिला. तीरंदाजी के टीम इवेंट में भारत के भाग्यवती चानू, झानो हांदाह और गगनदीप कौर को कांस्य पदक मिला. उन्होंने मलेशिया की टीम को पीछे छोड़ दिया.
Flash-Galerie Indien Commonwealth Spiele 2010

डॉ. कर्णी सिंह शूटिंग रेंज में चल रहे निशानेबाजी की प्रतियोगिता में भारत को शानदार सफलता मिली है. पिस्तौल से पहले राइफल से भी भारत के गगन नारंग और अभिनव बिंद्रा कमाल दिखा चुके हैं, जबकि महिला टीम ने भी जानदार प्रदर्शन किया है.

भारत के निशानेबाजों ने ही उसे अब तक सबसे ज्यादा मेडल दिलवाए हैं और आगे भी उनसे कई मेडलों की उम्मीद है.

भारत की महिला पहलवान गीता ने 55 किलो वर्ग में भारत के लिए स्वर्ण पदक जीता, जबकि तीरंदाजी में भारत की ऋतुल, जिग्नेश और श्रीधर की टीम ने रजत पदक जीता.

तीरंदाजी के कंपाउंड इवेंट में भारत की महिला टीम ने मलेशिया को पछाड़ते हुए कांस्य पदक जीता.

इसके अलावा भारत की टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा, सोमदेव बर्मन, लिएंडर पेस और महेश भूपति की जोड़ी अगले दौर में पहुंच गई. बैडमिंटन स्टार सायना नेहवाल भी अगले दौर में.

रिपोर्टः एजेंसियां/आभा एम

संपादनः ए जमाल

संबंधित सामग्री