1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

भारत और अमेरिका में टेलीफोन कूटनीति

अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा की भारत यात्रा के दौरान जिन मुद्दों पर बातचीत हुई, उनकी प्रगति पर अमेरिका नजर बनाए हुए है. बुधवार को अमेरिकी विदेश मंत्री हिलेरी क्लिटंन ने भारतीय विदेश मंत्री एसएम कृष्णा को फोन किया.

दोनों नेताओं के बीच करीब 40 मिनट तक बातचीत हुई. इस दौरान दक्षिण एशिया के हालात पर भी चर्चा हुई. खास तौर पर अफगानिस्तान के बारे में दोनों नेताओं ने विस्तार से बात की.

Der indische Außenminister S. M. Krishna

लेकिन क्लिंटन का जोर ओबामा यात्रा के दौरान उठाए गए कदमों की प्रगति जानने पर रहा. दोनों देशों के संबंधों को मजबूत करने के लिए बराक ओबामा जो कदम उठाकर गए, उन्हें आगे बढ़ाने के बारे में क्लिंटन और कृष्णा ने विचार विमर्श किया.

बातचीत के दौरान कृष्णा ने क्लिंटन को भारत आने का न्योता भी दे डाला. भारतीय विदेश मंत्रालय के अधिकारियों ने बताया कि भारत और अमेरिका के बीच में रणनीतिक बातचीत के दूसरे दौर के लिए विदेश मंत्री ने अमेरिकी विदेश मंत्री को भारत आने का न्योता दिया है. इस बातचीत की तारीखें जल्दी ही तय की जाएंगी. बातचीत का पहला दौर इसी साल जून में अमेरिका में हो चुका है.

एसएम कृष्णा ने अफगानिस्तान और पाकिस्तान में अमेरिका का विशेष दूत रिचर्ड होलब्रुक के निधन पर अफसोस जाहिर किया. साथ ही दोनों नेताओं ने क्रिसमस और नए साल की बधाइयों की अदला बदली भी की.

एक फोन अमेरिका के राजनीतिक मामलों के उप मंत्री विलियम बर्न्स ने भी किया. उन्होंने भारत की विदेश सचिव निरुपमा राव को फोन करके दोनों देशों से जुड़े अलग अलग मुद्दों पर बात की.

रिपोर्टः पीटीआई/वी कुमार

संपादनः ए जमाल

DW.COM

WWW-Links