″भारतीय पनडुब्बियों को दाखिल होने से रोका″ | दुनिया | DW | 18.11.2016
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

"भारतीय पनडुब्बियों को दाखिल होने से रोका"

पाकिस्तान ने भारतीय नौसेना की पनडुब्बी को पाकिस्तान में घुसने से रोकने का दावा किया है. पाकिस्तानी नेवी के मुताबिक पनडुब्बियां गोपनीय ढंग में पाकिस्तान के जल क्षेत्र में मौजूद रहना चाहती थीं.

पाकिस्तान की नौसेना ने एक बयान जारी कर कहा है, "भारतीय नौसेना अपने कपटी इरादे पूरा करने के लिए पनडुब्बियां तैनात कर रही थी. पाकिस्तानी नौसेना ने अलर्ट किया और जबरदस्त क्षमताओं का प्रदर्शन करते हुए भारतीय पनडुब्बी को पाकिस्तानी जल में दाखिल होने से रोका."

बयान में आगे कहा गया, "पाकिस्तानी नेवी फ्लीट यूनिटों ने पाकिस्तानी जलक्षेत्र के दक्षिणी इलाके में भारतीय पनडुब्बियों की मौजूदगी पाई..और फिर उनकी गतिविधियों को सीमित कर दिया."

पाकिस्तानी नौसेना के मुताबिक भारतीय पनडुब्बियां अपनी मौजूदगी को गोपनीय बनाये रखना चाहती थीं. खुद की तारीफ करते हुए पाकिस्तानी नौसेना ने यह भी कहा, "यह इस बात का सबूत है कि पाकिस्तानी नौसेना एंटी सबमरीन वॉरफेयर यूनिट्स के तौर पर भी बेहद सक्षम है."

बढ़ता तनाव

भारत और पाकिस्तान के बीच सितंबर में हुए उड़ी हमले के बाद से तनाव है. उड़ी में भारतीय सेना के कैंप में हुए आतंकी हमले में 19 सैनिकों की मौत हो गई थी. हमले के हफ्ते भर बाद भारत ने नियंत्रण रेखा पार कर पाकिस्तानी कश्मीर में चल रहे आतंकी कैंपों को ध्वस्त करने का दावा किया. इस्लामाबाद ऐसी सर्जिकल स्ट्राइक से इनकार करता है. सर्जिकल स्ट्राइक की खबरों के बाद से दोनों देशों के बीच सीमा और नियंत्रण रेखा पर आए दिन गोलीबारी हो रही है. इसी हफ्ते सीमा पार फायरिंग में पाकिस्तान के सात जवानों की मौत हुई.

कूटनीतिक स्तर पर भी भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पाकिस्तान को अलग थलग करने की कोशिश कर रहे हैं. भारत का आरोप है कि उड़ी हमले की साजिश पाकिस्तान में रची गई.

वहीं पाकिस्तान का कहना है कि भारत कश्मीर में मानवाधिकारों का हनन कर रहा है. भारतीय फौज की ज्यादती के चलते कश्मीरी आवाम भारत का विरोध कर रही है. नई दिल्ली पाकिस्तान को कश्मीर में हिंसा फैलाने का जिम्मेदार ठहरा रही है. परमाणु हथियरों से लैस दोनों देश मौजूदा तनाव के लिए एक दूसरे को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं.

ओएसजे/आरपी (पीटीआई)

 

DW.COM

संबंधित सामग्री