1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

भारतीय की जुबान काटने की कोशिश

जर्मनी में पढ़ने आए एक भारतीय युवक की जुबान काटने की कोशिश की गई. दो लोगों ने इस छात्र पर इस्लाम धर्म स्वीकारने का दबाव बनाया और ऐसा नहीं करने पर उसकी जुबान काट लेने की धमकी दी गई.

क्रिसमस से ठीक पहले बॉन शहर में दो लोगों ने 24 साल के इस भारतीय छात्र को धमकी दी कि अगर वह मुसलमान नहीं बनता है तो उसकी जुबान काट ली जाएगी. पुलिस ने बताया कि जब छात्र ने इससे इनकार कर दिया तो उसकी जुबान पर हमला किया गया.
बॉन पुलिस के प्रवक्ता हारी कोल्बे ने बताया कि इस मामले की तहकीकात शुरू कर दी गई है और "यह पता लगाने की कोशिश की जा रही है कि इसके पीछे कहीं कोई राजनीतिक मंशा तो नहीं है." उन्होंने कहा कि यह भी पता लगाने की कोशिश हो रही है कि धमकी देने वाले हमलावर कहां के हैं. पुलिस ने छात्र को सुरक्षा मुहैया करा दी है और इलाज के बाद उसे अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है.
हाल के कुछ समय से बॉन शहर सुर्खियों में है. अभी दो हफ्ते पहले ही इसके मुख्य रेलवे स्टेशन पर बम पाया गया, जिसे पुलिस ने नाकाम कर दिया. जर्मनी के पश्चिमी हिस्से वाले यह शहर कट्टरपंथी मुसलमानों का गढ़ माना जाता है.
जर्मनी में दूसरी सबसे बड़ी आबादी तुर्क मुसलमानों की है, जो 1960 और 70 के दशक में यहां आए थे. बॉन और इसके जुड़वां शहर कोलोन में तुर्क मुसलमानों की अच्छी खासी तादाद है. 9/11 के आतंकवादी हमले के बाद जब पश्चिमी देशों को अलग अलग स्तर पर आतंकवाद का सामना करना पड़ा, जर्मनी आम तौर पर इससे अछूता रहा है. हालांकि न्यूयॉर्क में हुए हमले की साजिश जर्मनी की ही एक मस्जिद में बनी थी.
हाल के दिनों में जर्मनी में कट्टर मुसलमानों और सलाफियों की संख्या बढ़ी है. यहां के अधिकारों का प्रयोग करके सलाफियों ने कई बार सार्वजनिक आंदोलन भी किए हैं. इस दौरान एक बार पुलिस पर जानलेवा हमला हो चुका है.
एजेए/एनआर (डीपीए)