1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

बढ़ रही है राजनीति से प्रेरित हिंसा

जर्मनी में राजनीति से प्रेरित हिंसा के मामले बढ़ रहे हैं. हिंसा वामपंथियों और उग्र दक्षिणपंथियों दोनों की ही ओर से दर्ज की गयी है.

सरकारी आंकड़ों के अनुसार पिछले साल जर्मनी में राजनीति से प्रेरित अपराध के 31,000 और हिंसा के 2,800 मामले दर्ज किए गए. दोनों ही मामलों में 2012 की तुलना में 15 फीसदी का इजाफा हुआ है. उग्र दक्षिणपंथियों द्वारा हिंसा के मामले वामपंथियों की तुलना में दोगुने हैं. हालांकि अगर पिछले रिकॉर्ड देखे जाएं तो पता चलता है कि उग्र दक्षिणपंथियों द्वारा की गयी हिंसा में कुछ कमी आई है. लेकिन वामपंथ द्वारा हिंसा के मामलों में 40 प्रतिशत वृद्धि देखी गयी.

जर्मनी के गृह मंत्री थोमास दे मेजियेर ने इसे चिंताजनक बताया है. विदेशियों पर हो रहे हमलों में भी 20 प्रतिशत बढ़ोत्तरी देखी गयी है. दे मेजियेर ने कहा कि विदेशियों के प्रति द्वेष की भावना देश के लिए बेहद नुकसानदेह है. उन्होंने कहा, "आप्रवासियों के घरों पर हो रहे हमलों को देखते हुए कहना होगा कि हमें संवेदनशील होने की जरूरत है."

आंकड़े दिखाते हैं कि रैलियों में काफी गुंडागर्दी हुई है. इनमें मारपीट के सबसे ज्यादा मामलों के लिए वामपंथी जिम्मेदार हैं. करीब 85 फीसदी मामलों में उन्हीं को जिम्मेदार पाया गया. पिछले साल ऐसे हादसों में 1,900 लोग जख्मी हुए. उससे पहले के साल की तुलना में यह 283 ज्यादा है.

दे मेजियेर के अनुसार सरकार को पुलिस पर हो रहे हमलों में आई तेजी से काफी चिंता हो रही है. पिछले साल दिसंबर में हैम्बर्ग में हुई हिंसा में 170 पुलिसकर्मी घायल हुए.

आईबी/एमजे (डीपीए, एएफपी)

संबंधित सामग्री