1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

ब्रैडमैन और तेंदुलकर की तुलना बेमानी है: ली

अपने करियर में दुनिया के बेहतरीन बल्लेबाजों को गच्चा देने वाले रफ्तार के सौदागर ब्रैट ली मानते हैं कि सचिन तेंदुलकर और सर डॉन ब्रैडमैन की तुलना करना सही नहीं है. ली के मुताबिक दोनों बल्लेबाजों की लीग अलग है.

default

ली से जब पूछा गया कि क्या तेंदुलकर और ब्रैडमैन की तुलना करना सही है तो उन्होंने कहा, "दो जुदा पीढ़ियों के खिलाड़ियों की तुलना करना हमेशा मुश्किल होता है. मुझे लगता है कि एक युग के महान खिलाड़ी की दूसरे युग के महान खिलाड़ी से तुलना हो सकती है. लेकिन ब्रैडमैन और तेंदुलकर इन सबमें सर्वश्रेष्ठ हैं. वे अपनी-अपनी लीग में हैं." टेस्ट मैचों से रिटायर हो चुके ली का कहना है कि तेंदुलकर और ब्रैडमैन बिलकुल अलग परिस्थितियों, समय, नियमों में खेले हैं इसलिए उनकी तुलना ठीक नहीं है.

ग्लेन मैकग्रा और जेसन गिलेस्पी के साथ ऑस्ट्रेलियाई आक्रमण की धार पैनी करने वाले ली ने अपनी टीम को दुनिया की सर्वश्रेष्ठ टीम बने रहने में मदद की है. ली मानते हैं कि मौजूदा दौर में सचिन तेंदुलकर दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज हैं. टेस्ट क्रिकेट में 50 शतक पूरे करने और वनडे में दोहरा शतक जड़ने वाला पहला खिलाड़ी बनने के लिए ली ने तेंदुलकर को बधाई भी दी है.

"मैंने हमेशा कहा है कि सचिन दुनिया के बेहतरीन खिलाड़ी हैं. वह वाइन की एक अच्छी बोतल की तरह हैं जो उम्र के साथ बेहतर होती जाती है. वह मेरे पसंदीदा खिलाड़ियों में से हैं और उन्हें खेलते देखकर मुझे रोमांच का अनुभव होता है. उन्होंने घरेलू मैदान से बाहर तेज पिचों पर भी शानदार प्रदर्शन किया है और यह उनकी प्रतिभा को दर्शाता है."

इंग्लैंड के हाथों एशेज में करारी हार झेलने वाली ऑस्ट्रेलियाई टीम की दुर्दशा पर ली उम्मीद जताते हैं कि टीम जल्द ही अपने रंग में होगी. ली का कहना है कि कुछ पुरानी क्रिकेट नीतियों को बदले जाने और युवा खिलाड़ियों को मौका देने की जरूरत है. "जिस तरह से ऑस्ट्रेलिया हारी है उससे वह निराश हुए हैं. हम 15 सालों से टॉप पर थे और हमें टीम में नए खिलाड़ियों को जगह देनी चाहिए. ऑस्ट्रेलिया जल्द ही शीर्ष पर आ जाएगा."
ली के मुताबिक किसी भी टीम को अपने मजबूत खिलाड़ियों के रिटायर होने के बाद शीर्ष पर बने रहने में मुश्किल पेश आती है. ऑस्ट्रेलियाई टीम से शेन वॉर्न, ग्लेन मैकग्रा, एडम गिलक्रिस्ट, मैथ्य हेडन जैसे धाकड़ खिलाड़ी रिटायर हुए हैं और इसका असर दिखाई पड़ रहा है.

ब्रैट ली की योजना है कि वह कुछ समय तक सीमित ओवरों की क्रिकेट खेलते रहेंगे. वह टी20 लीग आईपीएल को खासा पसंद करते हैं और उसमें अगले कुछ साल खेलने का विचार रखते हैं. 76 टेस्ट में 310 विकेट और 186 वनडे मैचों में 324 विकेट झटकने वाले ब्रैट ली एक गायक भी हैं और उन्होंने आशा भोंसले के साथ गाना भी गाया है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: महेश झा

DW.COM