1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

ब्रिटेन में विदेशी बच्चों की रिकॉर्ड पैदाइश

ब्रिटेन में आकर मां बनने वाली विदेशी महिलाओं की तादाद रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच गई है. इनमें भारतीय महिलाओं की हिस्सेदारी भी काफी ज्यादा है. पिछले साल इंग्लैंड या वेल्स में जन्मे हर चार में से एक बच्चे की मां विदेशी है.

default

इंग्लैंड में मां बनने वाली विदेशियों में भारतीय महिलाएं सबसे आगे हैं. इसके बाद पाकिस्तान और फिर पोलैंड का नंबर आता है. 2009 में कुल 706248 बच्चों ने जन्म लिया जिनमें एक 1,74174 बच्चे विदेशी मांओं की कोख से जन्मे यानी कुल पैदा हुए बच्चों के 24 फीसदी. 1969 में बच्चे पैदा करने वाली महिलाओं की राष्ट्रीयता दर्ज करने की शुरूआत होने के बाद यह अब तक की सबसे बड़ी तादाद है. यह संख्या आने वाले सालों में और बढ़ने के आसार हैं क्योंकि विदेशी मांओं के बच्चे पैदा करने की दर स्थानीय मांओं की तुलना में ज्यादा है.

Strand in Bournemouth Südengland

ब्रिटेन में विदेशियों की तादाद बढ़ी

इंग्लैंड के कुछ इलाके तो ऐसे हैं जहां विदेशी मांओं की संख्या तीन चौथाई से भी ज्यादा है. पूर्वी लंदन के न्यूहाम इलाके को ही देखिए वहां पिछले साल मां बनने वाली सभी महिलाओं में 75.7 फीसदी विदेशी महिलाएं थी. इसी तरह उत्तरी लंदन के ब्रेन्ट इलाके में यह आंकड़ा 73.4 फीसदी का है. इतना ही नहीं ज्यादा उम्र में मां बनने वाली विदेशी महिलाओं की संख्या भी काफी ज्यादा है. 45 साल या उससे ज्यादा की उम्र में मां बनने वाली महिलाओं में 30 फीसदी से ज्यादा विदेशी महिलाएं हैं.

पहले से ही इंग्लैंड में रहने वाले विदेशियों की तादाद पर लगाम लगाने में जुटी सरकार की कोशिशों को नए आंकड़ों से और बल मिलने के आसार हैं. हाल ही में नई गठबंधन सरकार ने वीजा की संख्या में कटौती और नियमों को सख्त बनाने का एलान किया है. दरअसल सरकार इस बात की आशंका से डरी हुई है कि कहीं आने वाले सालों में इंग्लैंड के मूल निवासी कहीं अपने ही देश में अल्पसंख्यक न हो जाएं.

रिपोर्टः एजेंसियां/ एन रंजन

संपादनः ए कुमार

DW.COM