ब्रिटेन में ′लव फ्लाइट′ पर रोक | मनोरंजन | DW | 02.01.2011
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

ब्रिटेन में 'लव फ्लाइट' पर रोक

ब्रिटेन के अधिकारियों ने फ्लाइट में प्यार करने का मौका देने वाली एयरलाइन कंपनी का लाइसेंस रद्द कर दिया है. अधिकारियों के मुताबिक एयरलाइन कंपनी का यह कारोबार जोखिम भरा है, इसमें पायलटों का ध्यान बंट सकता है.

default

माइल हाई क्लब नाम की यह कंपनी प्रेमी जोड़ों से 640 पाउंड लेकर उन्हें हजारों फुट की ऊंचाई पर ले जाती थी. हवा में एक निश्चित ऊंचाई पर पहुंचने के बाद प्रेमी जोड़ों को विमान के भीतर सब कुछ करने की छूट थी. ब्रिटेन में इस उड़ान को सेक्स इन फ्लाइट नाम से भी पुकारा जाने लगा.

2008 से 2010 तक कंपनी का धंधा खूब चला. लेकिन अब नागरिक उड्डयन विभाग ने एयरलाइन का लाइसेंस आगे बढ़ाने से मना कर दिया है. अधिकारियों का कहना है कि उड़ान के दौरान कई जोड़े अक्सर सेक्स करने लगते हैं. इससे पायलटों का ध्यान बंट सकता है और ऐसी स्थिति फ्लाइट और आम लोगों के लिए सुरक्षित नहीं है.

अधिकारियों के फैसले से कंपनी के संस्थापक माइक क्रिप्स खासे नाराज हैं. उनके मुताबिक, ''मुझे रोज कई जोड़ों के ईमेल आ रहे हैं. वो हमारे क्लब से जुड़कर अपने प्यार का रोमाचंक बनाना चाहते हैं. यह शर्म की बात है कि सीएए हमें ऐसा करने से रोक रहा है.'' क्रिप्स के मुताबिक वह कानूनी लड़ाई लड़ेंगे और यह कारोबार बंद नहीं करेंगे.

रिपोर्ट: एजेंसियां/ओ सिंह

संपादन: एन रंज

DW.COM

WWW-Links