1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

ब्रिटेन में और हमलों की आशंका में सेना तैनात

ब्रिटेन के मैनचेस्टर में हुए आतंकी हमले के बाद सरकार ने और भी हमलों की आशंका जताते हुए सेना की तैनाती का फैसला लिया है. मैनचेस्टर एरीना के आत्मघाती हमलावर की पहचान भी जाहिर कर दी गयी है.

ब्रिटेन में कई महत्वपूर्ण जगहों पर सेना तैनात कर दी गयी है. मैनचेस्टर एरीना में हुए आत्मघाती हमले के बाद देश में और भी आतंकी हमलों की आशंका को देखते हुए प्रधानमंत्री थेरीजा मे ने इसकी घोषणा की. मैनचेस्टर के एक म्युजिक कंसर्ट के बाद हुए हमले में 22 लोगों की मौत हो गयी और 59 लोग घायल हैं.

पुलिस ने हमलावर की पहचान कर ली है. ब्रिटेन में जन्मे 22 साल के सलमान आबेदी को हमलावर बताया गया है. उसका परिवार मूल रूप से लीबिया से था. जुलाई 2005 के बाद से ब्रिटेन में हुआ यह सबसे बड़ा आतंकी हमला है. 2005 में चार ब्रिटिश मुस्लिम आत्मघाती हमलावरों ने संगठित रूप से हमले किये थे और लंदन के ट्रांसपोर्ट नेटवर्क को निशाना बना कर 52 लोगों की जान ले ली थी.

UK Gedenken der Opfer von Manchester (Reuters/B. Birchall)

मैनचेस्टर टाउन हॉल में मैनचेस्टर एरीना के पीड़ितों की याद में संदेश लिखती ब्रिटिश प्रधानमंत्री थेरीजा मे.

प्रधानमंत्री मे ने हमले के पीछे किसी बड़े समूह का हाथ होने के संकेत मिलने की बात कही है. उन्होंने कहा, "देश के महत्वपूर्ण स्थलों की सुरक्षा की जिम्मेदारी संभालने वाले सशस्त्र पुलिस अधिकारियों की जगह सेना ले लेगी. अहम समारोहों और खेल के मुकाबलों जैसे बड़े आयोजनों में भी सशस्त्र सेना तैनात होगी."

यूरोपा लीग के फाइनल मैच में मैनचेस्टर युनाइटेड और डच फुटबॉल क्लब एएफसी आयाक्स बुधवार को आमने सामने होंगे. खेल के पहले सभी खिलाड़ी कुछ समय का मौन रख कर मैनचेस्टर हमले में मारे गये लोगों को याद करेंगे. बीते 10 सालों में पहली बार ब्रिटेन में खतरे के स्तर को "गंभीर" से "अति गंभीर" घोषित किया गया है. केवल दो हफ्तों में देश में आम चुनाव भी कराये जाने हैं.

आरपी/एमजे (रॉयटर्स, एएफपी)

 

DW.COM

संबंधित सामग्री