ब्रिटेन के वीजा के लिए इंग्लिश टेस्ट जरूरी | ताना बाना | DW | 28.11.2010
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

ब्रिटेन के वीजा के लिए इंग्लिश टेस्ट जरूरी

भारतीयों और यूरोप के बाहर से ब्रिटेन आने वाले लोगों को अब अपने पार्टनर से मिलने के लिए आने से पहले इंग्लिश का टेस्ट पास करना होगा. टेस्ट पास करने पर ही उन्हें इंग्लैंड का वीजा मिल पाएगा.

default

वीजा चाहने वाले लोगों को साबित करना होगा कि वे बुनियादी स्तर की इंग्लिश लिख और बोल सकते हैं. ब्रिटेन चाहता है कि प्रवासी उनके समाज में घुल मिल पाएं और इसी लिए इस तरह के टेस्ट का प्रावधान रखा गया है. इसके तहत ब्रिटेन की यूके बॉर्डर एजेंसी टेस्ट लेने वालों को तय करेगी.

आधिकारिक तौर पर बताया गया है कि सोमवार से वीजा लेने के लिए इस टेस्ट को पास करने का सर्टिफिकेट भी देना होगा. इस टेस्ट के अलावा अगर किसी ने इंग्लैंड में इंग्लिश मीडियम से ग्रेजुएशन तक की पढ़ाई की है, तो उसे भी इंग्लिश टेस्ट के बराबर ही माना जाएगा.

इसके लिए भी वीजा लेते वक्त उम्मीदवार को अपना ओरिजनल सर्टिफिकेट पेश करना होगा. हालांकि पर्यटकों और ब्रिटेन में सीमित समय के लिए जारी वीजा पर रह रहे लोगों के पार्टनरों को इंग्लिश टेस्ट की जरूरत नहीं होगी.

ब्रिटेन की सरकार ने हाल ही में एलान किया है कि दक्ष कामगारों की संख्या पर काबू पाने के लिए तय किया है कि भारत और दूसरे देशों से अब हर साल सिर्फ 21,700 दक्ष कामगारों को ब्रिटेन का वीजा दिया जाएगा. इतने वीजा जारी होने के बाद ब्रिटेन दक्ष कामगारों को वीजा नहीं देगा. हालांकि किसी दूसरे देश से ट्रांसफर पर आने वाले लोगों के लिए कोई बंधन नहीं होगा.

रिपोर्टः रॉयटर्स/ए जमाल

सापंदानः एस गौड़

DW.COM

WWW-Links