1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

ब्राजील बनाम आइवरी कोस्ट: मैच या मारपीट?

ब्राजील और आइवरी कोस्ट के बीच हुए मैच में मर्यादा की सारी सीमाएं टूट गई. ब्राजील के स्ट्राइकर फाबियानो ने दो बार हाथ से गेंद रोककर एक गोल दागा. अंत में दोनों टीमों के खिलाड़ी खुलकर हाथापाई करने लगे.

default

फाबियानो का फाउल

पूरे मैच में 11 येलो कार्ड और एक रेड कार्ड दिखाया गया. ब्राजील जैसी मजबूत मानी जाने वाली टीम के खिलाड़ियों ने मैच जीतने के लिए बेइमानी का सहारा भी लिया. 50वें मिनट में ब्राजीली स्ट्राइकर लुईस फाबियानो ने दो बार गेंद को हाथ के सहारे काबू में किया. पहले उन्होंने कलाई के सहारे गेंद को छुआ और फिर बाजूओं से गेंद को दोबारा रोका. दो गंभीर फाउलों के सहारे फाबियानो ने गोल कर दिया.

इस दौरान रेफरी के व्यवहार पर भी बड़ी हैरानी हुई. गोल होने के बाद रेफरी ने मुस्कुराते हुए फाबियानो से पूछा कि क्या गेंद उनके बाजू पर लगी. फाबियानो ने इससे साफ इनकार कर दिया. बेइमानी से हुए इस गोल के बाद दोनों टीमों के खिलाड़ियों में खूब धक्कामुक्की और गरमा गरमी हुई. कई बार तो ऐसा लगने लगा कि दोनों टीमें खेलने के बजाए मैदान पर दुशमनी निकाल रही हैं.

Brasilien Elfenbeinküste WM Weltmeisterschaft Fußball Flash-Galerie

मुफ्त में नपे काका

मैच के आखिर में शांत और शालीन माने जाने वाले ब्राजील के काका रेड कार्ड दिखाकर बाहर कर दिया गया. काका के पीछे दौड़ते हुए एक आइवरी कोस्ट का खिलाड़ी आया. टक्कर से बचने के लिए काका ने अपना हाथ मोड़ा, लेकिन विपक्षी खिलाड़ी मुंह में चोट का बहाना बनाकर मैदान पर लेट गया और काका को बाहर का रास्ता दिखा दिया गया. काका अब अगला मैच नहीं खेल सकेंगे.

Brasilien Elfenbeinküste WM Weltmeisterschaft Fußball Flash-Galerie

हालांकि बाद में आइवरी कोस्ट के कप्तान ड्रोग्बा ने काका से मुलाकात की. दोनों खिलाड़ियों के हाव भाव से लग रहा था कि ड्रोग्बा काका से रेड कार्ड के लिए माफी मांग रहे हैं. काका को रेड कार्ड दिखाए जाने से ब्राजील के कोच डुंगा और कई दूसरे खिलाड़ी भी हैरान हैं. काका मौजूदा दौर के खिलाड़ियों में सबसे शालीन माने जाते हैं. काका का बाहर होना ब्राजील के लिए एक झटका है. ब्राजील का अगला मैच क्रिस्टियानो रोनाल्डो की टीम पुर्तगाल से है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/ओ सिंह

संपादन: एन रंजन

संबंधित सामग्री