1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

ब्राजील कोलंबिया क्वार्टर फाइनल में

दिल को भावनाओं की ऊंचाई और गहराई में ले जाने वाले खेल में ब्राजील ने चिली को पेनाल्टी शूटआउट में हराया तो कोलंबिया ने लुइस सुआरेस के बिना खेल रही उरुग्वे की टीम को सीधे गोलों से हराकर क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया.

ब्राजील की टीम चिली की जुझारू और मजबूत टीम के खिलाफ विश्व चैंपियन वाला जलवा नहीं दिखा पाई, लेकिन इसके बावजूद खेल अत्यंत रोमांचक रहा और सामान्य समय में कोई टीम जीत नहीं पाई. मैच 1-1 से बराबर रहा. 18वें मिनट में गोंसालो खारा के सेल्फ गोल से ब्राजील को बढ़त मिली, जिसे 36वें मिनट में अलेक्सिस सांचेस ने गोल कर बराबर किया. आधे घंटे के अतिरिक्त समय में भी दोनों टीमों ने कोई गोल नहीं किया.

आखिरकार फैसला पेनाल्टी शूटआउट में हुआ. पहला गोल ब्राजील का, दूसरा चिली का, तनाव बढ़ने लगा. दो गोल गोलकीपर जूलियो सेजार ने रोक लिया, लेकिन ब्राजील के दो खिलाड़ी गोल नहीं कर पाए. पांच-पांच गोल का पेनाल्टी शूटआउट 3-3 से बराबर रहा. उसके बाद नेमार आए, उन्होंने गोल किया. चिली के खारा गोल नहीं कर पाए और ब्राजील जीत गया.

ब्राजील ने पेनाल्टी शूटआउट में हारने की शर्म बचा ली और फिलहाल छठे कप को जीतने का सपना देख सकता है. चिली पर 3-2 की जीत के बाद पूरे देश में रोमांच, सिहरन, उम्मीद और प्रार्थना के 120 मिनट के माहौल के बाद खुशी का आलम था. ब्राजील की टीम सेलेसाउ ने राहत की सांस ली. मैच के हीरो 34 वर्षीय सेजार रहे जिन्होंने दो बार गोल रोका और वह भी मॉरिसियो पिनेया और एलेक्सिस सांचेस का. गोंसालो खारा का अंतिम बॉल गोल पोस्ट से टकराया और उन्हें कुछ करने की जरूरत नहीं रही.

WM 2014 Achtelfinale Brasilien Chile

ब्राजील और चिली

खेल खत्म होने के बाद सेजार ने कहा, "चार साल पहले मैं दुखी था. इस बार मैं फिर से रो रहा हूं, लेकिन खुशी से. सिर्फ भगवान और मेरे परिवार को पता है कि मैं किस हाल से गुजरा हूं. सेलेसाउ में मेरी कहानी खत्म नहीं हुई है." चार साल पहले दक्षिण अफ्रीका में हुए वर्ल्ड कप के क्वार्टर फाइनल में हॉलैंड के खिलाफ उन्होंने सुरक्षित गोलकीपर होने की छाप नहीं छोड़ी थी.

बीच में एफसी टोरंटो के खेलने वाले गोलकीपर सेजार राष्ट्रीय टीम से बाहर हो गए थे. लेकिन ट्रेनर लुइस फेलिपे स्कोलारी ने उन पर भरोसा किया और सेजार ने उनके भरोसे का बदला चुकाया है. खेल के बाद उन्होंने माना, "हम पूरे देश का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं. यह बहुत बड़ा दबाव है. ब्राजील के लोगों को इसकी जरूरत थी, हमें इसकी जरूरत थी."

ब्राजील के स्टार स्ट्राइकर नेमार ने भी संतुलन बनाए रखा और जीत का गोल किया. इसके साथ ब्राजील लगातार छठी बार क्वार्टर फाइनल में पहुंचा है, लेकिन 1962 में तीसरा स्थान पाने वाले चिली को अंतिम आठ में पहुंचने के लिए अभी और इंतजार करना होगा. आर्तूरो विदाल ने टीम की हार पर अफसोस जताते हुए कहा, "इस तरह से बाहर निकलना मुश्किल है. हमने बेहतरीन खेल खेला. हमने कहा था कि हम मैदान पर पूरा जोर लगा देंगे, यह हमने किया."

WM 2014 Achtelfinale Kolumbien Uruguay

कोलंबिया और ऊरुग्वे

क्वार्टर फाइनल में ब्राजील का मुकाबला कोलंबिया से होगा. लुइस गुस्तावो यह मैच नहीं खेल पाएंगे क्योंकि दो बार पीला कार्ड मिलने के बाद उनपर अगला मैच खेलने की रोक है. फिर भी उन्होंने टीम की जीत पर खुशी का इजहार किया. राष्ट्रपति डिल्मा रूसेफ ने ट्वीट किया, "शुक्रिया जवानों, जूलिया सेजार की कोशिशों, आंसुओं और परेड की मदद से हम कासयाब रहे."

कोलंबिया ने लुइस सुआरेस के बिना खेल रही उरुग्वे की टीम को 2-0 से हराया. खामेस रोड्रिगेस ने 74,000 दर्शकों के सामने टूर्नानेंट में 28वें और 50वें मिनट में अपना चौथा और पांचवा गोल किया और अपने देश को इतिहास में पहली बार क्वार्टर फाइनल में पहुंचाया. इसके साथ ही उन्होंने दो बार विश्व चैंपियन रहे उरुग्वे की फिर से चैंपियन बनने की उम्मीदें धाराशायी कर दी.

पांच गोल के साथ 22 वर्षीय रोड्रिगेस इस वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा गोल करने वालों की सूची में सबसे ऊपर चले गए हैं. उन्होंने जर्मनी के थॉमस मुलर, अर्जेंटीना के लियोनेल मेसी और ब्राजील के नेमार को पीछे छोड़ दिया है. खेल के बाद रोड्रिगेस ने कहा, "मैं बहुत खुश हूं, यह ऐतिहासिक घटना है. अब मुश्किल खेल आ रहे हैं, हमें उम्मीद है कि हम आगे बढ़ेंगे."

एमजे/आईबी (डीपीए)

संबंधित सामग्री