1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

ब्राजील के वर्ल्ड कप आयोजकों के लिए चेतावनी

फीफा के प्रमुख जेप ब्लाटर ने कहा है कि कोपा जुडअमेरिकाना को स्थगित किया जाना ब्राजील के वर्ल्ड कप आयोजकों के लिए चेतावनी होनी चाहिए. खिलाड़ियों पर पुलिस के बंदूक तानने के आरोपों के बाद फाइनल मैच को रोक दिया गया था.

पिछले बुधवार को फाइनल मैच के दौरान अर्जेंटीना की टीम ने पुलिस बर्बरता का हवाला देकर दूसरे हाफ में मैच खेलने से मना कर दिया. यह घटना तब हुई जब दूसरे लेग के मैच में हाफ टाइम का खेल खत्म होने के बाद दोनों टीमों में झगड़ा हो गया जिसमें खिलाड़ी और अधिकारी दोनों शामिल थे. उसके बाद साओ पाउलो की टीम को ट्रॉफी दे दी गई लेकिन इससे 2014 में होने वाले वर्ल्ड कप के दौरान सुरक्षा के सिलसिले में चिंता बढ़ गई है.

जापान की राजधानी टोक्यो में फीफा की कार्यकारिणी समिति की बैठक के बाद ब्लाटर ने पत्रकारों से कहा, "फुटबॉल में इतनी भावुकता और इतना जोश है कि कभी कभी उस पर नियंत्रण नहीं हो सकता. लेकिन इस तरह की घटना के बाद मैं कहूंगा कि यह वर्ल्ड कप के आयोजकों के लिए चेतावनी भी है."

फुटबॉल मैचों में ब्राजील की पुलिस से संबंधित विवादों की श्रृंखला में ताजा आरोप यह लगा है कि एक पुलिस अधिकारी ने गोलकीपर डामियान अलबिल की छाती पर रिवॉल्वर तान दी. ब्लाटर ने कहा कि वर्ल्ड कप में सुरक्षा की जिम्मेदारी आयोजकों और स्थानीय अधिकारियों की है, न कि फीफा की.

योकोहामा में चेल्सी और ब्राजील के कोरिंथियंस के बीच क्लब फाइनल से पहले ब्लाटर ने कहा कि सुरक्षा खेल के आयोजन का मामला नहीं है. उन्होंने कहा, "सुरक्षा निश्चित तौर पर अधिकारियों का मामला है, चाहे वह पुलिस हो, सेना या कुछ और." ब्लाटर ने कहा कि फीफा गाइडलाइन दे सकती है या मौके पर एक विशेष सुरक्षा अधिकारी को तैनात कर सकती है, लेकिन अंततः यह पुलिस या सेना की जिम्मेदारी है.

फीफा प्रमुख ने हिंसा की जिम्मेदारी नकारते हुए कहा कि फुटबॉल हिंसा के लिए जिम्मेदार नहीं है. उन्होंने कहा कि दुनिया भर में 30 करोड़ लोग फुटबॉल खेलते हैं, उनमें समाज के विलेन भी होंगे. "हमसे हिंसा की शुरुआत नहीं हुई. हिंसा की शुरुआत समाज में हुई. इतिहास को देखे तो फुटबॉल से पहले भी हिंसा थी."

फीफा प्रमुख ब्लाटर ने 2018 के वर्ल्ड कप के लिए रूस की तैयारियों की सराहना की. फीफा ने मॉस्को के लुझनिकी स्टेडियम को टूर्नामेंट के फाइनल के लिए चुना है. 76 वर्षीय ब्लाटर ने कहा, "फरवरी में फीफा में मेरा 38वां साल शुरू हो जाएगा. मैंने रूस में 2018 जैसी तैयारियां पहले कभी नहीं देखीं. जोश बहुत ही ज्यादा है." रूस में 2018 में होने वाले वर्ल्ड कप के मैच 11 शहरों में होंगे. राजधानी मॉस्को में दो जगहों पर मैच होंगे.

एमजे/एनआर (रॉयटर्स, एएफपी)

DW.COM

WWW-Links

संबंधित सामग्री