1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

बोली जनवरी में, कोच्चि पर फैसला नहीं

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने कहा है कि आईपीएल के चौथे सीजन के लिए खिलाड़ियों की बोली जनवरी में लगाई जाएगी. विवादों में फंसी कोच्चि टीम पर अभी कोई फैसला नहीं हुआ है.

default

बीसीसीआई के मुखिया शशांक मनोहर

दरअसल खिलाड़ियों की बोली नवंबर में ही लगनी थी, लेकिन नई फ्रैंचाइजी कोच्चि की टीम पर अनिश्चितता के चलते बोली को जनवरी तक के लिए टालना पडा है. अब बोली मुंबई में 8 और 9 जनवरी को लगाई जाएगी.

बीसीसीआई ने कोच्चि फ्रैंचाइची को अपने अंदरूनी विवाद सुलझाने के लिए 27 नवंबर तक का समय दिया है. इस बारे में अभी कोई फैसला नहीं लिया गया है. आईपीएल का चौथा सीजन 8 अप्रैल से 22 मई तक खेला जाएगा जिसमें कुल आठ टीमें हिस्सा लेंगी और 60 मैच होंगे. पहला मैच 7 अप्रैल को खेला जाना है.

बुधवार को बीसीसीआई के सचिव एन श्रीनिवासन ने एक बयान में कहा, "आईपीएल की गवर्निंग काउंसिल की आज बैठक हुई जिसमें आईपीएल के अगले सीजन से जुड़े मुद्दों पर बात हुई. आईपीएल सीजन 8 अप्रैल को शुरू होगा और 22 मई को आखिरी मैच खेला जाएगा. लेकिन उद्घाटन समारोह 7 अप्रैल को होगा."

हालांकि इस बयान में मुश्किलों में फंसी कोच्चि और राजस्थान की फ्रैंचाइजी के बारे में कुछ नहीं कहा गया है. बीसीसीआई के उपाध्यक्ष और आईपीएल गवर्निंग काउंसिल के सदस्य राजीव शुक्ला ने बताया कि कोच्चि फ्रैंजाइजी के मामले पर बैठक में चर्चा नहीं हुई. उन्होंने कहा, "असल में आज की बैठक आईपीएल 4 की तैयारियों के बारे में थी. चूंकि अब आईपीएल 4 तैयारियां पूरी तरह शुरू हो चुकी हैं, हमें इसे सफल बनाना है."

इस बीच ये भी अटकलें है कि कोच्चि फ्रैंचाइजी के कुछ निवेशक इसे चलाने में कोई दिलचस्प नहीं रखते और वे इससे हटने के बारे में जल्द ही बीसीसीआई की अनुमति मांगेंगे. शुक्ला के मुताबिक, "कोच्चि के मुद्दे पर आज बिल्कुल बात नहीं हुई. उन्हें एक महीने का नोटिस दिया गया है जो 27 नवंबर को खत्म होगा. इसके बाद ही इस बारे में कोई फैसला लिया जाएगा."

रिपोर्टः एजेंसियां/ए कुमार

संपादनः प्रिया एसेलबोर्न

DW.COM

WWW-Links