1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

बॉलीवुड से रिश्ते को परवान चढ़ाना चाहते हैं मेद्वेदेव

रूसी राष्ट्रपति दिमित्री मेद्वेदेव बॉलीवुड के साथ अपने देश के रिश्ते को फिर से परवान चढ़ाना चाहते हैं. मुंबई पहुंचें मेद्वेदेव यशराज स्टूडियोज जाएंगे और कई बॉलीवुड की हस्तियों से भी मिलेंगे.

default

रूसी दौरे पर मेद्वेदेव

भारत के डीएनए अखबार ने मेद्वेदेव के भारत दौरे के बॉलीवुड पहलू को अपनी खास रिपोर्ट का विषय बनाया है. इसके मुताबिक रूसी राष्ट्रपति बॉलीवुड के एक्टरों, निर्देशकों और प्रोड्यूसरों के साथ होने वाली अपनी बातचीत में उस दौर की यादें ताजा करेंगे जब रूस के लोग राज कपूर की फिल्मों के दीवाने हुआ करते थे. वह भारतीय फिल्मकारों को रूसी लोकेशंस पर शूटिंग करने की दावत भी देंगे.

भारत के चार्ली चैपलिन कहे जाने वाले राज कपूर 1950 और 60 के दशक के टॉप एक्टर और डायरेक्टर थे. उनकी फिल्में श्री 420 और आवारा रूस में बहुत हिट हुईं. इन फिल्मों के गाने अब भी रूसी राजधानी मॉस्को के रेस्त्राओं में सुने जा सकते हैं. शीत युद्ध के दौर में रूस में हॉलीवुड की फिल्मों को बर्दाश्त नहीं किया जाता था. लेकिन भारतीय फिल्में मॉस्को के थिएटरों में खूब दिखाई जाती थीं.

आज भी रूस में बहुत सी बॉलीवुड फिल्में दिखाई जाती हैं. मंगलवार को नई दिल्ली से अपनी दो

Flash-Galerie Supermacht Indien - 60 Jahre demokratische Verfassung

बॉलीवुड फिल्में रूस में खासी पसंद की जाती हैं

दिवसीय भारत यात्रा की शुरुआत करने वाले मेद्वेदेव ने कहा, "हमारा देश उन जगहों में शामिल है जहां भारतीय संस्कृति को सराहा जाता है. भारत और रूस ही दो ऐसे देश हैं जहां 24 घंटे भारतीय फिल्में दिखाने वाले सैटलाइट चैनल हैं."

राज कपूर के अलावा रूस में मिठुन चक्रवर्ती और शाह रूख खान भी बहुत लोकप्रिय हैं. मिठुन की डिस्को डांसर फिल्म और उसका सबसे मशहूर गाना जिम्मी जिम्मी अकसर शनिवार की शाम रूसी टीवी चैनलों पर दिख जाते हैं. मेद्वेदेव राज कपूर के परिवार से भी मिल सकते हैं. भारत में रूसी राजदूत एलेक्जेंडर एम कादाकिन के हवाले से समाचार एजेंसी आईएएनएस ने यह खबर दी है.

कादाकिन ने बताया कि रूस और भारत राज कपूर की सबसे लोकप्रिय फिल्मों को फिर से बनाने के बारे में सोच रहे हैं जिनमें भारत और रूस के अभिनेता काम कर सकते हैं. दोनों देशों के फिल्मकार साझा फिल्म प्रोजेक्ट शुरू करने की संभावनाएं भी तलाश रहे हैं.

रिपोर्टः एजेंसियां ए कुमार

संपादनः एन रंजन

DW.COM

WWW-Links