1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

बैरिकेलो को धकेलने पर माइकल शूमाकर को सजा

पूर्व विश्व चैंपियन माइकल शूमाकर को हंगरी की रेस में एक गलत मूव लेने पर अगली रेस में 10 स्थानों की पेनल्टी की सजा दी गई है. रविवार को बुडापेस्ट में शूमाकर ने रूबेन्स बैरिकेलो का रास्ता रोकने की कोशिश की.

default

माइकल शूमाकर

विलियम्स के ड्राइवर बैरिकेलो ने सात बार के चैंपियन मर्सिडीज के माइकल शूमाकर से आगे निकलने की कोशिश की. रेस के आखिरी दौर में शूमाकर बैरिकेलो के इस कदम से बौखला गए और उन्होंने अपनी कार से रास्ता रोक दिया. इस वजह से बैरिकेलो की कार ट्रैक से बाहर होते होते बची.

हालांकि इसके बावजूद बैरिकेलो रुके नहीं. उन्होंने शूमाकर को पीछे छोड़ा और 10वां स्थान हासिल किया. शूमाकर 11वें स्थान पर रहे. अब सजा के तौर पर शूमाकर को अगली रेस यानी बेल्जियन ग्रां प्री में 10 स्थान पीछे खड़ा होना होगा. इसी महीने के आखिर में होने वाली बेल्जियन ग्रां प्री शूमाकर की पसंदीदा रेस है.

ब्राजील के बैरिकेलो फरारी की टीम में शूमाकर के साथी रह चुके हैं. 41 साल के बैरिकेलो ने रेस के बाद शूमाकर को ‘क्रेजी' करार दिया और कहा कि उन्हें डिस्क्वॉलिफाई कर देना चाहिए. दोनों खिलाड़ियों के बीच फरारी की टीम में भी रिश्ता काफी असहज रहा. छह साल के साझे करियर के दौरान अकसर बैरिकेलो को सहयोगी रेसर की भूमिका निभानी पड़ी.

रेस के बाद बैरिकेलो बौखलाए हुए थे. उन्होंने कहा, “अगर माइकल स्वर्ग जाना चाहते हैं तो मुझे परवाह नहीं, लेकिन मैं उनसे पहले नहीं जाना चाहता.”

बैरिकेलो ने कहा कि शूमाकर से उन्होंने बात नहीं की क्योंकि इसका कोई मतलब नहीं है. उन्होंने कहा, “आप माइकल को जानते हैं. उन्हें हमेशा लगता है कि वह सही हैं. वह तीन साल तक रुके रहे, लेकिन हम देख सकते हैं कि वह बदले नहीं हैं. वह अब भी वही इंसान हैं.”

रविवार की घटना पर शूमाकर काफी लापरवाह नजर आए. उन्होंने कहा, “हम जानते हैं कि कुछ ड्राइवरों के निश्चित विचार होते हैं. रुबेन्स वैसे ही हैं. जहां तक मेरी बात है तो उनके लिए काफी जगह थी. लेकिन यह साफ है कि मैं उनके लिए इसे ज्यादा से ज्यादा मुश्किल बनाना चाहता था.”

तीन साल के संन्यास के बाद शूमाकर खेल में लौटे हैं. लेकिन उनका प्रदर्शन अब तक निराशाजनक रहा है.

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः ए कुमार

DW.COM

WWW-Links