1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

'बेकार है वाडा के डोपिंग टेस्ट'

ऑस्ट्रेलिया के ओलंपिक प्रमुख जॉन कोएटेस के मुताबिक विश्व एंटी डोपिंग टेस्ट प्रतिबंधित दवाओं का उपयोग रोकने में अप्रभावी है. वह कहते हैं कि खिलाड़ी के जांच में सहयोग न करने पर उनको अपराधियों जैसी सजा मिलनी चाहिए.

ऑस्ट्रेलिया में कोशिश की जा रही है कि सांसद देश के कानून में ऐसे बदलाव लाएं जो ऑस्ट्रेलिया की एंटी डोपिंग एजेंसी की ताकत बढ़ा सकें. इसमें अधिकारी किसी खिलाड़ी के जांच में रुकावट पैदा करने पर 5,100 से 5,200 ऑस्ट्रेलियाई डॉलर का दंड दे सकेगा.

ऑस्ट्रेलियाई ओलंपिक कमेटी के प्रमुख जॉन कोएटेस के मुताबिक सिविल पेनल्टी काफी नहीं होगी. उन्होंने प्रस्तावित सुधारों में जेल का प्रावधान रखने की भी तरफदारी की है. "हमें यह समझना होगा कि वाडा जो परीक्षण करवाता है, वह प्रतिबंधित दवाएं लेकर धोखाधड़ी करने वालों को पकड़ने में अक्षम है. लेकिन वाडा आपको यह नहीं बता सकता कि आप क्या कानून बनाएं. मुझे लगता है कि प्रस्तावित बिल बड़ा सुधार है जो सिविल पेनल्टी के साथ होगा. लेकिन मुझे लगता है कि आपराधिक सजा का प्रावधान भी होना चाहिए."

पिछले महीने ऑस्ट्रेलिया की सरकार ने एक रिपोर्ट जारी की थी जिसमें अधिकारियों और शौकिया खिलाड़ियों में प्रतिबंधित दवाओं को इस्तेमाल करने की आदत को व्यापक बताया गया था. और यह भी कि संगठित अपराध के कारण प्रतिबंधित दवाओं की सप्लाई भी की जाती है.
ऑस्ट्रेलिया की स्पोर्ट्स एंटी डोपिंग अथॉरिटी ने घोषणा की है कि वह देश के दो फुटबॉल कोड्स ऑस्ट्रेलियन रूल्स और नेशनल रग्बी लीग की जांच कर रही है.

ऑस्ट्रेलियन स्पोर्ट्स एंटी डोपिंग अथॉरिटी सुधार प्रस्ताव 2013 को देश की टॉप एथलीट असोसिएशन ने 'परेशानी भरा' बताया है.

ऑस्ट्रेलियाई ओलंपिक कमेटी प्रतिबंधित दवाओं का सेवन करने वाले खिलाड़ियों के खिलाफ काफी कड़े स्वर में बोलती रही है. वह आने वाले सोची विंटर ओलंपिक में उन्हीं खिलाड़ियों को भेजेगी जिनका डोपिंग का कोई इतिहास न हो.

एएम/आईबी (एएफपी)

DW.COM

WWW-Links