1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मंथन

बूंद-बूंद जिंदगी

धरती पर उपलब्ध कुल पानी का सिर्फ तीन फीसदी पीने लायक है. बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए कई जगहों पर समुद्री पानी को पीने लायक बनाया जा रहा है. पूरी दुनिया में नदियां बुरी हालत में हैं.

और पढ़ें