1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

बुरके में आये हमलावर, ली 9 लोगों की जान

पाकिस्तान के शहर पेशावर में एक कॉ़लेज में घुसे तालिबानी चरमपंथियों के हमले में 9 लोग मारे गये हैं. पुलिस का कहना है कि हमलावर बुर्के पहनकर आये थे.

Pakistan Peshawar Anschlag (Reuters/F. Aziz)

फाइल फोटो

अधिकारियों का कहना है कि हमला पेशवार के एग्रीकल्चरल ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट में हुआ. हालात से निपटने के लिए पुलिस और सेना को तैनात किया गया और जवाबी कार्रवाई में सभी हमलावर मारे गये. इस घटना में 35 लोग घायल भी हुए हैं.

पाकिस्तानी तालिबान ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है और कहा है कि उन्होंने पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई एक सुरक्षित ठिकाने को निशाना बनाया है.

पाकिस्तान में महिला के हाथ मरे 17 लोग

पाकिस्तान को चरमपंथी गुटों से खतरा है: अमेरिका

पेशावर के पुलिस चीफ ताहिर खान का कहना है कि हमलावर एक ऑटो रिक्शा में सवार हो कर ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट के परिसर में पहुंचे. परिसर में दाखिल होने से पहले उन्होंने गार्ड को गोली मार कर घायल किया.

एक घायल छात्र एहतेशान हक ने रॉयटर्स को बताया कि यूनिविर्सिटी के होस्टल में लगभग 400 छात्र रहते हैं लेकिन उस वक्त वहां 120 छात्र ही थे क्योंकि ज्यादातर लोग छुट्टियों में घर गये हुए थे. उन्होंने कहा, "हम सो रहे थे जब हमने गोलियां चलने की आवाजें सुनीं. मैं उठा और चंद सेकंडों के भीतर हर कोई भाग रहा था और चिल्ला रहा था कि तालिबान ने हमला कर दिया है."

दिसंबर 2014 में पाकिस्तानी तालिबान ने पेशावर के आर्मी स्कूल पर हमला किया गया था जिसमें 134 बच्चे मारे गये थे. यह हमला पाकिस्तान के इतिहास के सबसे बड़े हमलों में से एक था.

एके/एनआर (रॉयटर्स)

DW.COM

संबंधित सामग्री