1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

बीसीसीआई से बोले मोदी, हटा कर तो दिखाओ

हर तरफ से हो रहे हमलों से बेपरवाह आईपीएल कमिश्नर ललित मोदी ने कहा है कि वह इस्तीफा नहीं देंगे. उन्होंने बीसीसीआई को चुनौती देते हुए कहा है कि वह उन्हें हटा कर तो देखे. मोदी ने कुछ लोगों का भंडाफोड़ करने की धमकी भी दी है.

default

इस्तीफा न देने पर अड़े मोदी

सोमवार को होने वाली आईपीएल गवर्निंग काउंसिल की बैठक में ललित मोदी की छुट्टी तय मानी जा रही है. लेकिन वह अब भी हार नहीं मान रहे हैं. मोदी के मुताबिक उन पर इस्तीफा देने के लिए दबाव डाला जा रहा है, लेकिन उन्होंने अपने विरोधी को चुनौती दी है कि कोई उन्हें हटाकर तो देखे. मोदी ने अपने ट्विट में यह बातें कही हैं.

Die indischen Schauspieler Shah Rukh Khan und Preity Zinta

मोदी के समर्थन में शाह रूख और प्रीति भी

गवर्निंग काउंसिल की बैठक में अपनाई जाने वाली रणनीति पर चर्चा करने के लिए बीसीसीआई के आला अधिकारियों ने शनिवार को एक अनौपचारिक बैठक भी बुलाई. इसमें बीसीसीआई के प्रमुख शशांक मनोहर, उपाध्यक्ष अरुण जेटली, सचिव एन श्रीनिवासन, आईपीएल के उपाध्यक्ष निरंजन शाह, वित्त और मीडिया कमेटी के अध्यक्ष राजीव शुक्ला और मुख्य प्रशासनिक अधिकारी रत्नाकर शेट्टी मौजूद थे.

इस बीच आईपीएल टीमों के मालिक खुल कर मोदी के समर्थन में उतर आए हैं. इनमें विजय माल्या से लेकर शाह रूख खान और प्रीति जिंटा के नाम शामिल हैं. इन सभी लोगों ने आईपीएल की कामयाबी का श्रेय मोदी को देते हुए कहा कि उन्हें अपनी बात रखने का मौका मिलना चाहिए.

उधर, मोदी ट्विटर पर लिखते हैं, "लोग मुझ पर इस्तीफे के लिए दबाव डाल रहे हैं. मैं आपको बता दूं, ऐसा नहीं होगा. तो फिर उन्हें ही मुझ को हटाने दीजिए. हमने क्या किया है, पिछले चार साल में लोगों ने देखा है. इसे हमसे कोई नहीं छीन सकता." एक अन्य ट्विट पर मोदी लिखते हैं, "मैं पीछे हटने वालों में से नहीं हूं. भरोसा रखिए. यह सब इसलिए नहीं खड़ा किया कि एक दिन फलां व्यक्ति कहेगा कि उसे क्या पसंद है, क्या नहीं."

वित्तीय धांधलियों के आरोप लगने के बाद आईपीएल के दफ्तरों पर छापों के बाद मोदी बीसीसीआई की आंखों में खास तौर से चुभ रहे हैं. लेकिन मोदी इसमें मीडिया को भी कम कसूरवार नहीं मानते. वह कहते हैं, "मीडिया बिना किसी पुष्टि के

Neugewählter Vorstand der indischen Cricket Kontrollstelle

बीसीसीआई में मोदी को हटाने की पूरी तैयारी

खबरें चला रहा है. इससे पता चलता है कि वह अपनी ताकत का किस तरह गलत इस्तेमाल कर रहा है. इन निराधार खबरों पर यकीन मत कीजिए. जल्द ही सच सामने आएगा. इंतजार कीजिए, तथ्य आपके सामने होंगे."

मोदी के ट्विट से लगता है कि वह लड़े बिना पीछे हटने के मूड में नहीं हैं. इस तरह मोदी और बीसीसीआई के बीच तू तू मैं मैं की पूरी तैयारी दिखती है. बीसीसीआई ने भी गवर्निंग काउंसिल की बैठक पांच दिन के लिए टाल देने की मोदी की भावुक अपील को खारिज कर दिया है. समझा जाता है कि मोदी को शांतिपूर्वक इस्तीफे के लिए राजी करने की केंद्रीय मंत्री शरद पवार की कोशिशें नाकाम हो गई हैं.

बीसीसीआई की बैठक के बाद मनोहर ने पत्रकारों को बताया, "वह (मोदी) कुछ भी कह सकते हैं. 26 अप्रैल को गवर्निंग काउंसिल की बैठक में ही कोई फैसला लिया जाएगा."

रिपोर्टः एजेंसियां/ए कुमार

संपादनः एस गौड़

संबंधित सामग्री