1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

बीजेपी नेता के यहां आयकर विभाग के छापे

कॉमनवेल्थ खेलों से जुड़े घपले के मामले में आयकर विभाग ने बीजेपी नेता और बिजनेसमैन सुधांशु मित्तल और कुछ अन्य कॉन्ट्रैक्टरों के परिसरों पर छापे मारे गए हैं. बीजेपी ने की संयुक्त संसदीय जांच समिति की मांग.

default

अब जांच की बारी

सूत्रों का कहना है कि आयकर विभाग के 200 से ज्यादा अधिकारी मित्तल और उनके रिश्तेदारों के परिसरों में पहुंचे. विभाग को पता चला है कि खेलों से जुड़े 200 करोड़ रुपये से ज्यादा के ठेके इन लोगों को मिले थे. मित्तल बीजेपी के पूर्व अध्यक्ष राजनाथ सिंह और पार्टी के नेता प्रमोद महाजन के बेहद करीबी माने जाते हैं. कॉमनवेल्थ खेलों से जुड़े काम के सिलसिले में टैक्स चोरी के मामले में ये छापे मारे गए हैं.

बताया जाता है कि आयकर विभाग ने राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में तीन बड़े ठेकेदारों के 20 से ज्यादा ठिकानों पर भी छापे गए. इसमें कुछ विदेशी कंपनियों के दफ्तर भी शामिल हैं, जो भारतीय कंपनियों के साथ मिल कर काम करती हैं. सूत्रों का कहना है कि आयकर विभाग खास तौर से खेल आयोजन समिति की तरफ से दिए गए ठेकों की पड़ताल करेगी. समिति के कुछ अधिकारियों पर रिश्वत लेने के भी आरोप हैं.

Flash-Galerie Indien Commonwealth Games Delhi 2010

आयकर विभाग खेलों के लिए विभिन्न कंपनियों को दिए गए कॉन्ट्रैक्ट और निविदाओं से जुड़े दस्तावेज भी जब्त करेगी ताकि अधिक खर्च और कम भुगतान दिखा कर संभावित टैक्स चोरी के मामलों का पता लगाया जा सके. विभाग को आयोजन समिति और विभिन्न सरकारी एजेंसियों की तरफ से दिए जाने वाले ठेकों से जुड़े दस्तावेज प्राप्त हो चुके हैं.

आयकर विभाग टैक्स चोरी के आरोपों के बाद खेलों के प्रसारण अधिकारों से जुड़े दस्तावेजों की भी छानबीन कर रहा है. विभाग ने लंदन की एक प्रसारण कंपनी की दिल्ली शाखा के हिसाब किताब की भी जांच पड़ताल की है. इस कंपनी के कर संबंधी ब्यौरे में कथित अनियमितताएं पाई गई हैं.

उधर बीजेपी के अध्यक्ष नितिन गड़करी ने मांग की है कि कॉमनवेल्थ घपलों की छानबीन के लिए संयुक्त संसदीय जांच समिति बनाई जाए. उनके मुताबिक यह एक बहुत बड़ा घोटाला है.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए कुमार

संपादनः आभा एम

DW.COM

WWW-Links