1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

बिहार में 48 सीटों के लिए वोटिंग जारी

बिहार विधानसभा चुनाव के तीसरे दौर के मतदान के लिए चुनाव प्रचार का शोर तो कब का थम चुका है. लेकिन इन इलाकों में नक्सली गतिविधियां थमने का नाम ही नहीं ले रही हैं. इस दौर में आज छह जिलों की 48 सीटों पर मतदान हो रहा है.

default

इन सीटों के लिए कुल 785 उम्मीदवार मैदान में हैं, जिनमें 65 महिलाएं हैं. इस दौर में जिन प्रमुख उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला होना है उनमें पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी भी शामिल हैं. वे जिन दो सीटों से चुनाव लड़ रही हैं उनके लिए भी इसी दौर में मतदान होना है. उनके अलावा कई मंत्री और बाहुबली भी मैदान में हैं. तीसरे दौर में एक करोड़ से ज्यादा वोटर हैं.

कई नामी गिरामी

पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी (राघोपुर) और (सोनपुर), जनता दल यूनाइटेड के नेता ग्रामीण कार्य मंत्री वृषिण पटेल (वैशाली), कला एवं संस्कृतिक मंत्री रेणु देवी (बेतिया), पर्यटन मंत्री रामप्रवेश राय (बरौली), खान एवं भूतत्व राज्य मंत्री रामचन्द्र सहनी (सुगौली), स्वास्थ्य राज्य मंत्री ब्यासदेव प्रसाद (सीवान), पूर्व मंत्री जर्नादन सिंह सिग्रीवाल (छपरा), और चंद्रमोहन राय (चनपटिया), बीजेपी, पूर्व मंत्री तथा कांग्रेस नेता विजय शंकर दूबे (सीवान), और विश्वमोहन शर्मा (लौरिया), तथा पूर्व मंत्री और राजद की वीणा शाही (वैशाली) इसी दौर में अपनी किस्मत आजमा रही हैं.

इन विधानसभा क्षेत्रों में जेडी (यू) के 24 और उसकी सहयोगी बीजेपी के भी 24 उम्मीदवार चुनाव मैदान में है. आरजेडी 35 सीटों पर चुनाव लड़ रहा है. वहीं उसने अपने सहयोगी एलजेपी के लिए 13 सीटें छोड़ी है. सीपीएम के पांच और सीपीआई के 10 व सीपीआईएम के 16 उम्मीदवार चुनाव मैदान में है. कांग्रेस, एनसीपी और बीएसपी ने सभी 48 सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़े किए हैं.

मतदान क्षेत्र

जिन विधानसभा क्षेत्रों में कल मतदान होगा उनमें नरकटियागंज, बगहा, लौरिया, नौतन, चनपटिया, बेतिया, सिकटा, रक्सौल, सुगौली, हरसिद्धी(सु.), गोविंदगंज, केसरिया, मोतिहारी, कल्याणपुर, वाल्मीकिनगर, रामनगर (सु.), बैकुंठपुर, बरौली, गोपालगंज, कुचायकोट, भोरे (सु.), हथुआ, सिवान, जीरादेई, दरौली(सु.), रघुनाथपुर, दरौधा, बरहरिया, गोरियाकोठी, महाराजगंज, एकमा, मांझी, बनियापुर, तरैया, मड़हौरा, छपरा, गरखा (सु.), अमनौर, परसा, सोनपुर, हाजीपुर, लालगंज, वैशाली, महुआ, राजापाकर(सु.), महनार, राघोपुर और पातेपुर (सु.) शामिल हैं.

सुरक्षा पुख्ता

इस बार जिन छह जिलों में मतदान हो रहा है उनमें सारण और वैशाली भी शामिल हैं. लेकिन इन दोनों जिलों में नक्सली गतिविधियां तेज हो गई हैं. कई जगह नक्सली हमले हो चुके हैं. वैशाली जिले के विभिन्न इलाकों में लगे नक्सली पोस्टरों में लोगों से चुनाव का बहिष्कार करने को कहा गया है. पोस्टरों में वोट देने वालों को इसके गंभीर नतीजे भुगतने की चेतावनी भी दी गई है. इससे लोगों में दहशत है.

Oppositionsführerin im indischen Bundesstaat Bihar Rabri Devi

कई दिग्गजों की भाग्य की परीक्षा

वैसे, पुलिस ने इस दौर में सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए हैं.पुलिस महानिदेशक नीलमणि इसका ब्योरा देते हुए बताते हैं कि हर मतदान केंद्र पर केंद्रीय बलों के अलावा बिहार सैन्य पुलिस (बीएमपी) के जवान भी तैनात रहेंगे. वे कहते हैं कि तीसरे चरण में होने वाले मतदान को लेकर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं. बूथ लुटेरों और गड़बड़ी फैलाने वाले असामाजिक तत्वों को देखते ही गोली मारने के आदेश दे दिए गए हैं. उन्होंने बताया कि मतदान के दौरान उपद्रवी तत्वों पर आसमान से निगाह रखने के लिए हेलीकॉप्टर का इस्तेमाल किया जाएगा. इसके अलावा नदियों में नौका और दुर्गम इलाके में घुड़सवार दस्ते के जरिए भी उपद्रवियों पर नजर रखी जाएगी.

नीलमणि ने बताया कि संवेदनशील और अतिसंवेदनशील बूथों पर केन्द्रीय अर्धसैनिक बलों को तैनात किया गया है. उन्होंने बताया कि इसके अलावा हर मतदान केद्र पर बिहार सैन्य पुलिस और जिला सशस्त्र बल के जवान तैनात रहेंगे.

राज्य के मुख्य चुनाव अधिकारी सुधीर कुमार राकेश ने बताया कि सुरक्षा कारणों से सारण जिले के तरैया और अमनौर विधानसभा क्षेत्र में मतदान कल सुबह सात बजे से शाम चार बजे तक ही होगा, जबकि वैशाली जिले के पातेपुर और पश्चिम चम्पारण के वाल्मीकिनगर व रामनगर विधानसभा क्षेत्र में सुबह सात बजे से तीन बजे तक वोट डाले जाएंगे.

राज्य में पहले दो दौर का मतदान भले शांतिपूर्ण तरीके से निपट गया हो, नक्सलियों की बढ़ती सक्रियता की वजह से तीसरे दौर का मतदान पुलिस और प्रशासन के लिए गंभीर चुनौती बन गया है.

DW.COM

WWW-Links