1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

बिहार: एलजेपी का सारे विधायकों ने इस्तीफा दिया

रामविलास पासवान की लोक जनशक्ति पार्टी के सभी विधायकों ने इस्तीफा दिया. इन 12 विधायकों का कहना है कि उन्होंने निलंबन के फैसले के खिलाफ यह कदम उठाया है. अशोभनीय व्यवाहर के लिए बुधवार को 67 विधायक निलंबित किए गए थे.

default

पार्टी मुखिया को सौंपे गए इस्तीफे

बिहार विधानसभा में उपद्रव और हुड़दंग करने वाले 12 विधायकों ने निलंबन के अगले दिन इस्तीफा दे दिया. लोकजनशक्ति पार्टी के प्रवक्ता केशव सिंह ने कहा, ''सभी 12 विधायकों ने अपने इस्तीफे पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामविलास पासवान और प्रदेश अध्यक्ष पुष्पपति कुमार पारस को भेज दिए हैं. विधायकों ने निलंबन के फैसले का विरोध करने के लिए यह कदम उठाया है.''

दरअसल बुधवार को विधानसभा स्पीकर उदय नारायण चौधरी के कड़े फैसले के बाद एलजेपी के विधायक दल की बैठक हुई. बैठक में विधायकों ने केंद्रीय नेतृत्व से कोई फैसला करने की मांग की. निलंबित होने वाले विधायक अपनी हरकतों से नहीं बल्कि स्पीकर की कार्रवाई को बेइज्जत करने वाला मान रहे हैं. हुड़दंगी विधायक निलंबन के फैसले को बेवजह भी करार दे रहे हैं. विधायकों के दिल में चुभी टीस का जिक्र करते हुए केशव सिंह ने कहा, ''विधानसभा सदस्यों को नीचा दिखाया गया है.''

दरअसल एलजेपी और आरजेडी के विधायक मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को पद से हटाए जाने की मांग कर रहे हैं. केंद्रीय महालेखा निरीक्षक (सीएजी) की एक रिपोर्ट में बिहार सरकार पर विकास कार्यों में वित्तीय गड़बड़ियों का आरोप लगाया गया है. इन आरोपों के बाद पटना हाईकोर्ट ने मामले की सीबीआई जांच के आदेश दिए हैं. इसी आधार पर नीतीश से इस्तीफा मांगा जा रहा है.

वैसे एलजेपी के विधायकों की बिहार विधानसभा के समीकरणों में कोई खास अहमियत नहीं है. लिहाजा इस फैसले को सिर्फ राजनीतिक चाल या दबाव डालने की कोशिश के तौर पर देखा जा रहा है.

रिपोर्ट: पीटीआई/ओ सिंह

संपादन: ए कुमार

DW.COM