बिटकॉइन के ′जनक′ पर 5 अरब डॉलर का मुकदमा | विज्ञान | DW | 28.02.2018
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

विज्ञान

बिटकॉइन के 'जनक' पर 5 अरब डॉलर का मुकदमा

दो साल पहले खुद को बिटकॉइन का जनक बताने वाले शख्स पर एक परिवार ने 5 अरब डॉलर का मुकदमा ठोंका है. परिवार का आरोप है कि क्रैग राइट ने उनके बेटे की मौत के बाद धोखाधड़ी की.

ऑस्ट्रेलिया के कारोबारी क्रैग राइट और अमेरिकी आईटी विशेषज्ञ डैव क्लाइमैन ने 2011 में डब्ल्यू एंड के इंफो डिफेंस रिसर्च कंपनी स्थापित की. कंपनी बिटकॉइन बनाने लगी. 2013 में क्लाइमैन की मौत हो गई. डैव क्लाइमैन के परिवार का आरोप है कि राइट ने कॉन्ट्रैक्ट के कागजों में पुरानी तारीख भरकर कंपनी की बौद्धिक संपदा अपने नाम कर ली. ऑस्ट्रेलियाई कारोबारी पर क्लाइमैन के परिवार ने कॉइन्स चुराने का आरोप लगाया है.

अमेरिका में फ्लोरिडा की संघीय अदालत में परिवार ने राइट के खिलाफ मुकदमा दायर किया है. राइट पर 11 लाख बिटकॉइन चुराने का आरोप लगा है. बीते साल शिकागो के ग्लोबल एक्सचेंज में कदम रखने के बाद 17 दिसंबर 2017 को क्रिप्टोकरेंसी बिटकॉइन ने 19,783 डॉलर की रिकॉर्ड ऊंचाई छुई. लेकिन जनवरी में बिटकॉइन तेजी से नीचे गिरा. अब एक बार फिर इसकी कीमत ऊपर जा रही है.

Australien Craig Wright Bitcoin Erfinder (picture-alliance/AP Photo/BBC News)

क्रैग राइट

परिवार के मुताबिक, राइट और क्लाइमैन ने जितने कॉइन बनाए, उनमें से आधे क्लाइमैन परिवार के हैं. परिवार का अनुमान है कि आधे बिटकॉइंस की आज वैल्यू करीब 11.6 अरब डॉलर है. एकदम शुरुआत में बिटकॉइन का मूल्य कुछ सेंट था. तब राइट और क्लाइमैन ने अथाह बिटकॉइन माइन किए.

मुकदमे में कहा गया है कि क्लाइमैन की मौत के वक्त, "परिवार में किसी यह पता नहीं था कि बिटकॉइन निर्माण में उनकी भूमिका किस हद तक है. यह पता चलने के बाद क्रैग राइट ने डैव क्लाइमैन के बिटकॉइन और बिटकॉइन तकनीक से जुड़ी बौद्धिक संपदा हड़पने की स्कीम बनाई."

दो साल पहले राइट ने खुद को सातोषी नाकामोटो बताते हुए बिटकॉइन का जनक करार दिया. लेकिन शक गहराने पर राइट दावे का खंडन करने लगे. अब क्लाइमैन परिवार का कहना है कि बिटकॉइन दोनों ने ही मिलकर बनाए.

 

जो हार्पर/ओएसजे (एपी)

 

DW.COM