1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

बार्सिलोना ने कसा सुआरेस का जबड़ा

दांत काटने के लिए बदनाम उरुग्वे के स्टार खिलाड़ी लुईस सुआरेस को ठीक करने के लिए बार्सिलोना ने उनके साथ खास तरह का करार किया है. अगर सुआरेस ने बार्सा की तरफ से खेलते हुए किसी को दांत काटा तो सख्त कार्रवाई होगी.

इंग्लिश क्लब लिवरपूल ने उरुग्वे के स्ट्राइकर लुईस सुआरेस को स्पेनी क्लब बार्सिलोना को ट्रांसफर कर दिया है. बार्सिलोना ने सुआरेस के साथ करार में "एंटी बाइट शर्त" जोड़ी है. एंटी बाइट शर्त में साफ कहा गया है कि अगर सुआरेस ने किसी को दांत काटा तो बार्सिलोना खुद ही उन्हें निलंबित कर सकता है. मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक उन पर 50 लाख डॉलर का जुर्माना भी लगाया जा सकता है. आम तौर पर खिलाड़ियों को निलंबित करने का फैसला फुटबॉल संघ करते हैं.

बार्सिलोना की छवि साफ सुथरे खेल की है. लेकिन बीते सालों में टीम मैदान पर संघर्ष कर रही है. 2012, 2013 और 2014, लगातार तीन साल से क्लब चैंपियंस लीग के सेमीफाइनल को पार नहीं कर सका है. लियोनेल मेसी और नेमार जैसे बड़े नामों के बावजूद बार्सिलोना को निर्णायक वार करने वाले खिलाड़ियों की जरूरत है और कहीं न कहीं बदमिजाजी के बावजूद सुआरेस इस कमी को पूरा करते दिखते हैं.

Screenshot Luis Suarez Flaschenöffner

सुआरेस पर मजाक थम नहीं रहा है.

फिलहाल बार्सिलोना और सुआरेस दोनों अलग अलग तरह की पाबंदियां झेल रहे हैं. बार्सा जहां ट्रांसफर पर बैन झेल चुका है, वहीं वर्ल्ड कप में इटली के खिलाड़ी को दांत काटने वाले सुआरेस पर चार महीने की पाबंदी है, यानि वो अक्टूबर से पहले मैदान पर नहीं उतर पाएंगे. उन पर 1.10 लाख डॉलर का जुर्माना भी ठोंका गया है. हालांकि सुआरेस ने इसके खिलाफ स्विट्जरलैंड की खेल अपील अदालत में अपील की है.

फीफा अध्यक्ष सेप ब्लाटर भी अब मान रहे हैं कि सुआरेस पर कुछ ज्यादा ही सख्ती हो गई. ब्लाटर ने कहा, "मुझे लगता है कि ऐसी सजा दुख पहुंचाती है. अब वो दुनिया के सबसे महान क्लबों में से एक में है. मुझे लगता है कि वहां वो अपनी जगह पा लेगा."

ओएसजे/एमजे (एएफपी, एपी)

DW.COM