1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

बायर्न ने आर्सेनल को पछाड़ा

चैंपियंस लीग के मैच में बायर्न ने 10 खिलाड़ियों वाले आर्सेनल को फर्स्ट लेग में हरा दिया. हालांकि बायर्न को बढ़त दूसरे हाफ में मिली, लेकिन उन्होंने इसे जीत में बदल दिया.

आर्सेनल की मुश्किल तब शुरू हुई जब गोलकीपर वोइचेक श्चासनी को पहले हाफ में पेनल्टी के बाद बाहर जाना पड़ा. 2-0 की जीत के बाद मैच का अगला लेग म्यूनिख में होना है. चैंपियंस लीग में हर मुकाबला दो मैचों का होता है. एक अपने मैदान पर और एक प्रतिद्ंवद्वी के मैदान पर.

आर्सेनल में जर्मन राष्ट्रीय टीम के दो खिलाड़ी हैं, मेसुत ओएजिल और पेर मैर्टेसआकर, जबकि जेरोम बोआटेंग, थियागो, डेविड अलाबा, मारियो गोएत्से, मारियो मांजुकिच बायर्न के लिए खेलते हैं. शनिवार को फ्राइबुर्ग से 4-0 की जीत के बाद बायर्न के ट्रेनर पेप गुआर्डियोला ने अपने कुछ स्टार खिलाड़ियों को आराम दिया. आर्सेनल के मैनेजर आर्सेने वेंगर ने भी अपनी टीम में कुछ बदलाव किए. उन्होंने स्ट्राइकर ओलिविए जिरो की बजाए नए खिलाड़ी याया सानोगो को टीम में लिया.

पहले हाफ में मुकाबला कांटे का था लेकिन कोई टीम गोल नहीं कर पाई. खेल के दौरान गुआर्डिओला ने येलो कार्ड पाए बोआटेंग को बाहर बुला लिया और उनकी जगह राफीन्या को भेजा. खावी मार्टिनेज को सेंटर बैक पर और लाम को होल्डिंग मिडफील्ड में भेजा गया. इस बदलाव के साथ बायर्न और आक्रामक टीम बन गई. 55 वें मिनट में लाम ने क्रोस को शॉर्ट पास दिया और क्रोस ने बदले हुए गोलकीपर लुकाश फाबियान्स्की को आसानी से चकमा देते हुए गोल कर दिया.

इसके बाद बायर्न ने दूसरा गोल खेल खत्म होने कुछ पहले 88वें मिनट में किया. लाम ने गेंद गोल की ओर बढ़ाई, थोमस मुलर ने हेडर से गोल दागा और बायर्न को 2-0 से बढ़त दिला दी.

पिछले साल भी बायर्न की जीत का कुछ ऐसा ही सिलसिला था. इस जीत ने 11 मार्च को म्यूनिख में होने वाले मैच के लिए अच्छी जमीन तैयार की है. हालांकि क्रोस ने कहा, "यह अभी खत्म नहीं हुआ है, हमने पिछले साल भी देखा था, मुकाबला बहुत टाइट था. यह सही दिशा में एक कदम था लेकिन हम अभी आगे नहीं बढ़े हैं."

चैंपियंस लीग का एक अन्य मुकाबला स्पेन की टीम अटलेटिको मैड्रिड और एसी मिलान के बीच मिलान के मैदान पर हुआ. 83वें मिनट में डिएगो कोस्टा के गोल ने स्पेनी टीम को जीत दिलाई.

एएम/एमजे (एएफपी, डीपीए, रॉयटर्स)

DW.COM