1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

बायर्न जर्मन कप के फाइनल में

बायर्न म्यूनिख के लिए नौवें दोहरे टाइटल का लक्ष्य और करीब आ गया है. जर्मन फुटबॉल संघ के कप के लिए उसने सेमी फाइनल में वोल्फ्सबुर्ग को 6-1 से रौंद दिया. अगला लक्ष्य चैंपियंस लीग का फाइनल है. तीसरा टाइटल वह जीत चुका है.

उस टीम का फैसला बुधवार को हो जाएगा जो पहली जून को बर्लिन में होने वाले जर्मन कप के फाइनल में बायर्न म्यूनिख के खिलाफ खेलेगा. कप के दूसरे सेमीफाइनल में मुकाबला श्टुटगार्ट और फ्राइबुर्ग के बीच है. वोल्फ्सबुर्ग पर धमाकेदार जीत के साथ बुंडेसलीगा चैंपियन का दावा काफी मजबूत हो गया है.

प्रतिबंधित टॉप स्टार फ्रांक रिबेरी की जगह पर बायर्न की टीम में खेलने वाले स्विस स्टार शेरदान शकीरी ने कहा, "हमने जर्मन चैंपियनशिप जीत ली है, अब हम डीएफबी कप भी चाहते हैं. चैंपियंस कप में हम फाइनल में पहुंचना चाहते हैं." स्विस राष्ट्रीय टीम में खेलने वाले शकीरी ने म्यूनिख में 71,000 दर्शकों के सामने मंगलवार शाम हुए मैच में म्यूनिख की जीत में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई.

DFB-Pokal Bayern Muenchen - VfL Wolfsburg

मांजुकिच का पहला गोल

क्लब के खेल निदेशक मथियास सामन ने उनके खेल को अंतरराष्ट्रीय स्तर का प्रदर्शन बताया. शकीरी बायर्न के पहले चार गोल तैयार करने शामिल थे. 50वें मिनट में गोल कर बायर्न के लिए स्कोर 3-1 करने वाले शकीरी ने अपनी टीम के प्रदर्शन पर कहा, "यह निश्चित तौर पर अद्भुत प्रदर्शन था, मेरा प्रदर्शन भी." इसके पहले मारिया मांदुकिच ने 17वें मिनट में और आर्येन रॉबेन ने 35वें मिनट में बायर्न के लिए गोल किया जबकि मेजबान टीम की ओर से डिएगो ने 45वें मिनट में गोल किया. मैच के बाद वोल्फ्सबुर्ग के कोच डीटर हेकिंग ने कहा, "बायर्न ने हमारी गलतियों से लाभ उठाया."

मंगलवार की शाम शकीरी के अलावा मारियो गोमेज के नाम रही. खिलाड़ी बदल कर मैदान पर उतारे जाने के बाद गोमेज ने सात मिनट के अंदर 80, 83 और 86वें मिनट में तीन गोल किए. गोमेज की हैट ट्रिक डीएफबी कप में बायर्न के किसी खिलाड़ी की दूसरा सबसे तेज हैट ट्रिक है. 1997 में कार्सटेन यांकर ने गैर पेशेवर वाल्डबैर्ग टीम के खिलाफ 16-1 की रिकॉर्ड जीत में सिर्फ पांच मिनट में हैट ट्रिक बनाई थी.

DFB-Pokal FC Bayern Munich - VfL Wolfsburg

गोमेज के गोल

बायर्न म्यूनिख के कप्तान फिलिप लाम ने क्लब की जीत के बाद कहा, "यदि आपके पास हमारे जैसे स्ट्राइकर हों, तो यह कविता जैसा है." बायर्न की टीम इस सीजन में बेहतरीन प्रदर्शन कर रही है और अब उसका लक्ष्य 16वीं बार डीएफबी कप हासिल करना है. अगर उसे इसमें सफलता मिलती है तो 23 बार जर्मन चैंपियन रहे बायर्न के लिए यह क्लब के इतिहास में नौवां दोहरा खिताब होगा.

इस हार के साथ वोल्फ्सबुर्ग ने अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल प्रतियोगिताओं में शामिल होने का अंतिम मौका गंवा दिया है. लेकिन बुंडेसलीगा में इस समय तालिका में 13वें नंबर पर चल रहे वोल्फ्सबुर्ग को इस हार का पहले से ही अंदाजा था. क्लब के मैनेजर क्लाउस आलोफ्स ने कहा, "हमने उन्हें अच्छी चुनौती दी, लेकिन हमारे जैसी टीमों से बायर्न को पछाड़ना मुश्किल है."

एमजे/एजेए (डीपीए)

DW.COM

WWW-Links